Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया ने अपनी किताब में खोली ISI की पोल, कसाब को हिंदू के रूप में मारना चाहता था पाक

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया ने अपनी किताब लेट मी से इट नाउ में 26/11 हमले को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है। किताब में लिखा कि आईएसआई मुंबई हमले के दोषी मोहम्मद अजमल आमिर कसाब को एक हिंदू के तौर पर मारना चाहती थी।

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया ने अपनी किताब में खोली ISI की पोल, कसाब को हिंदू के रूप में मारना चाहती थी पाकमुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया और आतंकी कसाब

मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया ने 26/11 के मुंबई हमले में शामिल कसाब और पाक की इंटेलिजेंस सर्विस आईएसआई को लेकर खुलासा किया है। अपनी किताब 'लेट मी से इट नाउ' जिक्र करते हुए लिखा कि आईएसआई मुंबई हमले के दोषी मोहम्मद अजमल आमिर कसाब को एक हिंदू बताकर मरवाना चाहती थी।

उन्होंने कहा कि कसाब ने बेंगलुरु निवासी समीर चौधरी के नाम से एक फर्जी पहचान पत्र बनाया था। 26/11 हमले को हिंदू आतंकवादी के रूप में पेश करने की लश्कर की योजना थी।

मारिया ने किताब में लिखा कि यदि सब कुछ योजना के अनुसार होता तो कसाब चौधरी के रूप में मर जाता और मीडिया ने हमले के लिए हिंदू आतंकवादियों को दोषी ठहराया होता। आतंकवादी संगठन ने कथित तौर पर आतंकवादियों पर भारतीय पते के साथ फर्जी आईडी कार्ड दिए थे।

आतंकी हमले के बाद जारी की गई तस्वीर पर मारिया ने लिखा कि यह केंद्रीय एजेंसियों की करतूत थी। मुंबई पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के लिए मीडिया को किसी भी खुलासा ना करने की कोशिश की थी। तस्वीर में कसाब को उसकी दाहिनी कलाई पर लाल रंग का धागा पहने देखा गया था, जिसे एक पवित्र हिंदू धागा माना जाता है। मारिया के इस बयान के अब सामने आने के बाद भाजपा कांग्रेस पर आक्रमक नजर आ रही है।

Next Story
Top