Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ठेले में बैठकर डॉक्टर पहुंचे कोविड केयर सेंटर : लालू बोले - कथित विकास के प्रचार के बोझ तले दब गया सुशासन

बिहार में इन दिनों सुपौल से आई ठेले में बैठे एक स्वास्थ्य कर्मी की तस्वीर चर्चाओं में है। तस्वीर में दिख रहे स्वास्थ्य कर्मी के जज्बे की तो चारों ओर सराहना हो रही है। लेकिन राज्य में नीतीश के सुशासन पर विपक्षी निशाना साध रहे हैं। इसी कड़ी में लालू के ट्विटर हैंडल से कहा गया कि 'सुशासन' कथित विकास के प्रचार के बोझ तले दब गया है।

kovid care center reached the doctor after sitting in the cart Lalu said Good governance is burdened with the promotion of alleged development
X
सुपौल से आई ठेले में बैठे एक स्वास्थ्य कर्मी की तस्वीर

गुरुवार को लालू प्रसाद यादव के ट्विटर हैंडल से ठेले पर बैठे स्वास्थ्य कर्मी की तस्वीर शेयर की गई है। जो स्वास्थ्य कर्मी ठेले पर बैठकर सुपौल नगर पंचायत के बार्ड नंबर 12 बने रेस्ट हाउस की ओर जा रहा है। रास्ते में घुटनों तक पानी भरा है। जानकारी है कि यह तस्वीर मंगलवार की है जिसमें सेंटर में तैनात डॉक्टर अमरेंद्र कुमार ठेले पर बैठकर कोविड सेंटर के लिए जा रहे हैं।

इस तस्वीर के वायरल होने के बाद गुरुवार को लालू यादव के ट्विटर हैंडल की ओर से कहा गया कि 15 वर्षों का सुशासन कथित विकास के प्रचार के बोझ तले इतना दब गया है कि कर्तव्यपरायण डॉक्टर साहब को ठेले में लद कर कोविड केयर सेंटर जाना पड़ता है। सुशासनी कोविड केयर को खुद केयर की सख़्त ज़रूरत है। विज्ञापन का हज़ारों करोड़ मूलभूत सुविधाओं में लगाते तो यह नहीं देखना पड़ता ना?

Next Story