logo
Breaking

बारिश में भीगने के बाद कैसे बचें बीमारी से, घरेलू तरीके अपनाकर रख सकते हैं खुद को सुरक्षित

मानसून अब वापस जा रहा है और लगभग भारत के हर हिस्से में बारिश हो रही है

बारिश में भीगने के बाद कैसे बचें बीमारी से, घरेलू तरीके अपनाकर रख सकते हैं खुद को सुरक्षित
नई दिल्ली. मानसून अब वापस जा रहा है और लगभग भारत के हर हिस्से में बारिश हो रही है। इस मौसम में हर कोई भींगना चाहता है। मगर बारिश खुशी के साथ बिमारी भी लेकर आती है। दिल्ली में बारिश के खत्म होते ही कई सारी बीमारियां दस्तक देना शुरू कर देते हैं। डेंगु के ज्यादातर मामले इसी मौसम में देखने को मिलते हैं। जहां शहरों में नालियों का पानी सड़कों पर बहना शुरू हो जाता है वहीं दूषित पेयजल भी लोगों तक पहुंच जाते हैं। बारिश के मौसम में छः प्रमुख बीमारियों से बचाव की व्यवस्था करना चाहिए। इनमें मलेरिया, डेंगू, हैजा, टायफायड, पीलिया तथा खाज-खुजली जैसे चर्म रोग शामिल हैं। इसके अलावा जहरीले कीड़ों के डंक भी कई लोगों को परेशान करते हैं। सरकार को भी इन बीमारियों से निपटने के लिए अस्पतालों में बुनियादी सुविधा का इस्तेमाल करके रखना चाहिए ताकि मरीजों का सही समय पर इलाज हो सके।

बारिश में भींगे मगर सुरक्षा का रखें ख्याल-

बारिश के मौसम में भीगने से बचें, यदि भीग जाएं तो पहले बाल सुखा लें , जल्द से जल्द साफ पानी से अवश्य नहाएं। बारिश के मौसम में नम कपड़े न पहनें, कपडे सुखाने पंखे के नीचे ना बैठें ,आग या हीटर से अपनी ठण्ड मिटाएं ,जल्द से जल्द सूखे हुए कपड़े ही पहनें। बंगलों एवं आदि की सफाई करें, आंखों को दिन में तीन से चार बार साफ पानी से धोएं। ऐसा करने पर आपसे बारिश में जन्म लेने वाली बीमारियां दूर रहेंगी। और आप बारिश का मजा ले पाएंगे। इस मौसम में खान- पान का भी ध्यान रखना चाहिए। ऐसा कुछ भी नहीं खाना चाहिए जिससे फूड प्वायजनिंग होने का खतरा हो।

नीचे की स्लाइड्स में जानिए, - डेंगू से बचने के लिए जरूरी उपाय

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Share it
Top