Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Health Tips: म्यूजिक सुनने से दूर होता है आपका पेन, क्या आप जानते हैं इसके अन्य लाभ के बारे में

Health Tips: म्यूजिक (Music) हमारे स्वास्थ्य (Health) में एक अहम रोल निभाता है। आपने अक्सर इस बात पर गौर किया होगा कि जब भी हम अपने पसंदीदा म्यूजिक (Favorite Music) को सुनते हमारा मूड रिफ्रेश (Mood Refresh) हो जाता है और हम अपने आप में एक अलग ही एनर्जी का अनुभव ककते हैं। म्यूजिक थैरिपी के जरिए डिप्रेशन, स्ट्रेस और दर्द जैसी कई समस्याओं को हल किया जा सकता है। यहां हम आपको म्यूजिक सुनने से होनें वाले फायदों के बारे में बताएगें।

Health Tips: म्यूजिक सुनने से दूर होता है आपका पेन, क्या आप जानते हैं इसके अन्य लाभ के बारे में
X

Health Tips: म्यूजिक (Music) हमारे स्वास्थ्य (Health) में एक अहम रोल निभाता है। आपने अक्सर इस बात पर गौर किया होगा कि जब भी हम अपने पसंदीदा म्यूजिक (Favorite Music) को सुनते हमारा मूड रिफ्रेश (Mood Refresh) हो जाता है और हम अपने आप में एक अलग ही एनर्जी का अनुभव करते हैं। एक अच्छा सूदिंग म्यूजिक हमारे दर्द और हमारी चिंता को मिनटो में कम कर देता है। शोध बताते हैं कि संगीत हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य (Physical and Mental Health) को कई तरह से लाभ पहुंचा सकता है। म्यूजिक थैरिपी (Music Therapy) के जरिए डिप्रेशन, स्ट्रेस और दर्द जैसी कई समस्याओं को हल किया जा सकता है। यहां हम आपको म्यूजिक सुनने से होनें वाले फायदों (Benefits of Listening Music) के बारे में बताएगें।

दिल की सेहत का रखता है ध्यान

शोध से पता चला है कि जब संगीत बजाया जाता है तो हमारे शरीर में ब्लड अधिक आसानी से फ्लो होता है। म्यूजिक सुनने से हार्ट बीट को कम किया जा सकता है, ब्लड प्रेशर को कम कर सकते हैं, इसके अलाव ये स्ट्रेस हार्मोन कोर्टिसोल के लेवल को भी कम कर सकता है। इसके साथ ही ये ब्लड मेंसेरोटोनिन और एंडोर्फिन के लेवल को बढ़ा सकता है।

मूड ठीक करता है

म्यूजिक के कारण दिमाग में हार्मोन डोपामाइन का उत्पादन बढ़ जाता है। यह बढ़ा हुआ डोपामाइन टेंशन और डिप्रेशन की भावनाओं को दूर करने में मदद करता है। म्यूजिक का असर सीधे हमारे दिमाग के उस हिस्से पर होता है जिसके जरिए हमारे इमोशनल व्यवहार कंट्रोल होता है।

डिप्रेशन के लक्षणों से राहत देता है

शोध में पाया गया है कि संगीत सुनने से बायोकेमिकल स्ट्रेस रिड्यूसर को ट्रिगर करके तनाव को दूर किया जा सकता है। इसके अलावा जब आप उदास महसूस कर रहे हों, तो संगीत आपको ऊपर उठाने में मदद कर सकता है। इसके जरिए टेंशन और स्ट्रेस जैसे कई सारे डिप्रेशन के लक्षण कम किए जा सकते हैं।

मेमोरी

अल्जाइमर रोग या मनोभ्रंश का कोई इलाज नहीं है लेकिन म्यूजिक थैरिपी ने इसके कुछ लक्षणों से राहत देने का काम कर दिखाया है। संगीत चिकित्सा एक उत्तेजित रोगी को आराम दे सकती है, मनोदशा में सुधार कर सकती है और रोगियों में खुला संचार कर सकती है।

दर्द को कम करता है

तनाव के स्तर को कम करके और मस्तिष्क में प्रवेश करने वाले दर्द संकेतों के लिए एक मजबूत प्रतिस्पर्धात्मक उत्तेजना प्रदान करके, म्यूजिक थैरिपी दर्द मैनेज करने में सहायता कर सकती है। संगीत दर्द की कथित तीव्रता को विशेष रूप से बुजुर्गों की देखभाल, इंटेसिव केयर यूनिट या फिर गंभीर बीमारी में सार्थक रूप से कम कर सकता है।

वजन कम करने में करता है मदद

वजन कम करने के दो तरीके हैं एक कम खाना और दूसरा एक्सरसाइज करना। इन दोनों ही मामलों में म्यूजिक आपकी मदद करता है। खाने के दौरान अगर लोगों को बैकग्राउंड में धीमा संगीत सुनाया जाए और लाइट को कम कर दिया जाए तो ये उन लोगो को खाना खाने में धीमा कर सकता है, जिसे लोग कम खाते हैं। वहीं अगर आपके वर्कआउट के समय वर्कआउट ट्रैक बैकग्राउंड में बज रहा हो तो आपमें एक अलग उत्साह पैदा हो जाता है। इसके साथ ही टफ एक्सरसाइज सेशन के दौरान ये आपकी सहनशक्ति को भी बढ़ाता है।

नोट: यहां दी गईं टिप्स और सुझाव केवल सामान्य जानकारी है और इसे एक्सपर्ट की सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। इन्हें शुरू करने से पहले कृपया एक्सपर्ट से सलाह लें।

और पढ़ें
Next Story