Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Durga Puja 2019 : ट्रेडिशनल बंगाली ज्वेलरी से दुर्गा पूजा पर लड़कियां बढ़ाएं खूबसूरती

Durga Puja 2019 दुर्गा पूजा पश्चिम बंगाल के सबसे बड़े त्यौहारों में से एक माना जाता है। साल 2019 में 29 सितंबर से शुरु हो रहा है। दुर्गा पूजा का त्यौहार कुंवार माह की शुक्ल पक्ष की प्रथमा से शुरु होकर सप्तमी, अष्टमी, नवमी और अंत में दशमी की पूजा के बाद पूर्ण होता है। दुर्गा पूजा के दौरान देवी दुर्गा की पूजा शहर के बड़े बड़े पंडालों से लेकर घर में बहुत धूमधाम से की जाती है। इस दौरान अधिकांश बंगाली महिलाएं पारंपरिक बंगाली स्टाइल में तैयार होना पसंद करती हैं। ऐसे में आज हम आपको दुर्गा पूजा के अवसर पर ट्रेडिशनल बंगाली ज्वेलरी के बारे में बता रहे हैं।

Durga Puja 2019 : ट्रेडिशनल बंगाली ज्वेलरी से दुर्गा पूजा पर लड़कियां बढ़ाएं खूबसूरती
X
Durga Puja 2019 Traditional Bengali Jewellery on Durga Puja For Girls

Durga Puja 2019 : दुर्गा पूजा के त्यौहार की सबसे आकर्षक दृश्य कोलकाता में देखने को मिलता है, लेकिन देश के अन्य हिस्सों में इसे नवरात्रि और दशहरे के रुप में मनाया जाता है, लेकिन समय के साथ अब दुर्गा पूजा का त्यौहार अलग जगहों पर भी मनाया जाने लगा हैं जिसमें युवा बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। अगर आप भी साल 2019 की दुर्गा पूजा पर पारंपरिक बंगाली लुक लेना चाहती हैं, तो आइए जानते हैं बंगाल की ट्रेडिशनल ज्वेलरी के बारे में...

दुर्गा पूजा पर पारंपरिक बंगाली आभूषण /Traditional Bengali Jewellery on Durga

टेंपल ज्वेलरी / Temple Jewellery

अगर आप मां दुर्गा का श्रृंगार करना चाहते हैं, तो उन्हें टेंपल ज्वेलरी पहनाएं, ये भारतीय ज्वेलरी का एक प्रकार है। जो आमतौर पर दक्षिण भारत में लोकप्रिय है। दुर्गा पूजा के त्योहार और देवी की पूजा के अवसर पर अधिकांश महिलाएं टेंपल ज्वेलरी पहनना पसंद करती हैं। जो बेहद शुभ मानी जाती हैं।

पारंपरिक बंगाली हार / Traditional Bengali Neckless

अगर आप दुर्गा पूजा पर रॉयल लुक के साथ ट्रेडिशनल लुक को कैरी करना चाहती हैं, तो ऐसे में आप सोने की एक लंबी मोटी चेन वाली माला पहन सकती है। जिसे नारकोली फूल हार कहा जाता है। ये बंगाली डिजाइन का एक शाश्वत पारंपरिक हार माना जाता है। जो पिछले 200 सालों से फैशन में बरकरार बना हुआ है।

बंगाली डिजाइन बालियां / Bengali Design Earrings

आप दुर्गा पूजा के लिए शोनार कान नामक एक बंगाली इयररिंग पहनें। ये सोने की प्लेट पर महीन कारीगरी से बनी हुई झुमका स्टाइल की बाली होती है। ये पहनने में आरामदायक होने के साथ देखने में बेहद ही आकर्षक लगती है।

बंगाली डिजाइन चूड़ी / Bengali Design Bengals

आप दुर्गा पूजा के त्यौहार पर पारंपरिक बंगाली डिज़ाइन की चूड़ियो को पहन सकती हैं, इस चूड़ी के बीच में रिड्ज नामक डिजाइन दिया जाता है, जिसको बनाने में 40 ग्राम सोने का उपयोग होता है।

चूर / Chur

चूर एक पारंपरिक बंगाली कड़ा होता है, जिसपर नक्काशीदार डिजाइन बनाया जाता है, इसे आमतौर पर महिलाएं दुर्गा पूजा के समय पहनना पसंद करती हैं। चूर को सोने से बनाया जाता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story