Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बिग बॉस 13 के एक्स कंटेस्टेंट ने साधा PM मोदी पर निशाना, कहा- न्यू इंडिया में कुछ भी सही नहीं

बिग बॉस 13 के एक्स कंटेस्टेंट ने पीएम मोदी पर निशाना साधा है। इस कंटेस्टेंट का प्रज्ञा ठाकुर के डिफेंल कमेटी में लिस्ट में शामिल होने को लेकर अपना गुस्सा जाहिर किया। क्या है ये पूरा मामला, जानिए.. इस खबर में.

बिग बॉस 13 के एक्स कंटेस्टेंट ने साधा PM मोदी पर निशाना, कहा- न्यू इंडिया में कुछ भी सही नहींबिग बॉस 13

बिग बॉस 13 (Bigg Boss 13) में घर से बेघर हो चुके तहसीन पूनावाला (Tehseen Poonawalla) ने अपने काम में फिर से जुट गए है। उन्होंने अपने अपने ट्वीट के जरिए पीएम मोदी पर निशाना साधा। शो से आउट होने के बाद तहसीन पूनावाला ट्विटर पर काफी एक्टिव नजर आ रहे हैं, वो लगातार ट्वीट कर जरूरी मुद्दे उठा रहे हैं।

उन्होंने इस बार बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर को रक्षा मंत्रालय की संसदीय सलाहकार समिति के लिए नामित किए जाने को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधा। आपको बता दें कि साध्वी ठाकुर मालेगांव विस्फोट मामले में आरोपी है, इस मामले की सुनवाई कोर्ट में जारी है।

रक्षा मंत्रालय की कमेटी की जिम्मेदारी मिलने पर तहसीन पूनावाला (Tehseen Poonawalla) ने ट्वीट किया। ट्वीट में उन्होंने पीएम मोदी पर वार करते हुए लिखा: " फैक्ट ये है कि आतंकी मामले में आरोपी साध्वी प्रज्ञा जी अब रक्षा मंत्रालय की संसदीय सलाहकार कमेटी में होंगी... ये दिखाता है कि पीएम मोदी जी के न्यू इंडिया में कुछ भी सही नहीं है... लेकिन पीएम मोदी जी कभी भी 'आतंकी प्रज्ञा' को दिल से माफ नहीं करेंगे... हमारे पीएम का एक और झूठ'... ये तंज कसते हुए तहसीन पूनावाला ने इस तरह प्रज्ञा ठाकुर ( Pragya Thakur) के जरिए पीएम मोदी पर निशाना साधा।


आपको बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने 21 अक्टूबर को एक अधिसूचना जारी की थी। इस अधिसूचना में रक्षा मंत्रालय की संसदीय सलाहकार समिति के 21 सदस्य के नाम शामिल थे. इनमें प्रज्ञा ठाकुर का भी नाम शामिल था। इनके अलावा, फारुक अब्दुल्ला, ए राजा, सुप्रिया सुले, मिनाक्षी लेखी, राकेश सिंह, शरद पवाल, जेपी नड्डा के भी नाम लिस्ट में शामिल रहे है।

साध्वी प्रज्ञा को कमेटी में शामिल किए जाने को लेकर कांग्रेस ने भी निशाना साधा था। कांग्रेस ने इस फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए कहा कि बीजेपी की कथनी और करनी में काफी फर्क है। पीएम मोदी ने कहा था कि मालेगांव मामले के आरोपियों पर कार्रवाई करेंगे, लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा है।

Next Story
Top