Logo
election banner
जबलपुर में अच्छी जॉब का ऑफर देकर पन्ना जिले के 45 श्रमिकों को कर्नाटक और तेलंगाना ले जाया जा रहा था। 14 लोगों को बीजेपी अध्यक्ष की पहल पर मुक्त कराया गया।

MP News: पन्ना जिले के अलग-अलग इलाकों से अनुसूचित जनजाति वर्ग के 45 मजदूरों को बंधक बनाकर कर्नाटक और तेलंगाना में मजदूरी कराई जा रही थी। मानव तस्करी से जुड़े लोग उन्हें जबलपुर में अच्छी जॉब दिलाने का ऑफर देकर ले गए थे, लेकिन जबलपुर की बजाय 27 लोगों को सीधे कर्नाटक और 18 को तेलंगाना ले गए। वहां बंधक बनाकर कई माह से मजदूरी कराई जा रही थी।

स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने कुछ दिनों पहले बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा को इस घटना की जानकारी दी थी। जिस पर उन्होंने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और दोनों स्टेट के मुख्यमंत्रियों रेवंत रेड्डी और सिद्धारमैया को पत्र लिखा था। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने इस पर  तत्काल मजदूरों को मुक्त कराने के निर्देश दिए। जिसके बाद तेलंगाना से 14 श्रमिकों को मुक्त को करा दिया गया है। इन लोगों को करीमनगर बंधक बनाया गया था।

फोटो शेयर कर सोशल मीडिया पर जताया आभार 
भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा ने रविवार दोपहर तेलंगाना से मुक्त कराए गए श्रमिकों की फोटो शेयर कर X पर बताया कि करीम नगर पुलिस उन्हें लेकर पन्ना के लिए रवाना हो चुकी है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और पन्ना जिला प्रशासन के प्रति आभार व्यक्त करते हुए वीडी शर्मा ने कहा कि बंधक श्रमिकों को मुक्त कराने में दोनों राज्य की सरकारों को निर्देशित किया गया था। श्रमिक के मुक्त होने की सूचना से उनके परिवार में खुशी का माहौल है। 

5379487