Logo
election banner
स्पेशल सेल ने अवैध हथियारों के सरगना को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इसके पास से तीन पिस्टल बरामद की है। आरोपी खुद ही अपने घर पर हथियार बनाता था।

Arms Smugglers Arrested: दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अंतर्राज्यीय अवैध हथियारों के रैकेट के वांछित सरगना को गिरफ्तार किया है। मध्य प्रदेश बेस्ड सरगना 34 वर्षीय दयाल सिंह के पास से तीन सेमी-ऑटोमैटिक पिस्टल बरामद हुई। आरोपी को बुरहानपुर, एमपी से पकड़ा गया है।

पुलिस ने दी यह जानकारी

डीसीपी प्रतीक्षा गोदारा के अनुसार, 3 फरवरी को अवैध हथियारों के तस्कर गांधी दास डावर को पकड़ा गया था। उसके पास से 20 पिस्टल बरामद हुए थे। दास ने पूछताछ में खुलासा किया कि उसे अवैध हथियारों की बरामद खेप दयाल सिंह से मिली थी।

दिल्ली में उन हथियारों को दयाल सिंह के ही एक संपर्क को दिया जाना था। पुलिस दयाल सिंह की गिरफ्तारी के लिए गंभीर प्रयास कर रही थी। मध्य प्रदेश में उसके ठिकानों पर कई बार छापेमारी की गई। 18 अप्रैल को गुप्त सूचना प्राप्त हुई कि वांछित अभियुक्त दयाल सिंह अपने किसी परिचित को अवैध असलहे की आपूर्ति करने हेतु सोनिया विहार, दिल्ली के पास आएगा।

जाल बिछाकर दबोचा

इसके बाद एक जाल बिछाया गया और आरोपी दयाल सिंह को उपरोक्त मामले में गिरफ्तार कर लिया गया। दयाल सिंह ने खुलासा किया कि वह एमपी में अपने पैतृक गांव में पिछले 6-7 वर्षों से अवैध हथियारों के निर्माण में लिप्त है। उसने हथियार बनाना अपने पूर्वजों से सीखा था, जो कई वर्षों से इस धंधे में लिप्त थे।

घर पर ही बनाता था हथियार

दयाल सिंह ने बताया कि वह अपने घर पर स्थित भट्टी का उपयोग करके अवैध हथियार बनाता था। एक पिस्टल की कीमत उसे लगभग 1800-2000 रुपये पड़ती है और वह उसे आगे लगभग पांच हजार रुपये प्रति पीस कीमत पर बेचता है।

5379487