Logo
election banner
दिल्ली पुलिस ने सेंधमारी के मामले में एक नाबालिग समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने तीन दिन में दो वारदातों को अंजाम दिया था।

Delhi Crime News: दिल्ली के कीर्ति नगर इलाके में 30 मार्च को एक घर में हुई सेंधमारी के मामले में पुलिस ने एक नाबालिग समेत चार लोगों को पकड़ा है। इनमें दो सगे भाई व एक ज्वेलर भी शामिल है। एक आरोपी 16 मामलों में शामिल रहा है। इनके पास से 21 लाख से ज्यादा कैश, 15 लाख कीमत की ज्वेलरी, आठ महंगी घड़ियां और तीन मोबाइल फोन बरामद किए हैं। इनके पकड़े जाने पर पुलिस ने घरों में चोरी व सेंधमारी के दो केस सुलझाने का दावा किया है।

डीसीपी विचित्र वीर के अनुसार, पंजाबी बाग सब डिवीजन के एसीपी विजय सिंह की टीम ने इस गैंग को पकड़ने में सफलता हासिल की है। 30 मार्च को यह केस सामने आया था। शिकायतकर्ता ने बताया कि दोपहर एक से पौने चार बजे के बीच घर में चोरी हुई थी। कई लाख रुपये कैश, ज्वेलरी और अन्य सामान चोरी होने की जानकारी दी गई थी। इस बाबत कीर्ति नगर थाने में केस दर्ज किया गया।

नाबालिग समेत चार लोगों को पकड़ा

पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे चेक किए, जिसके बाद तफ्तीश जहांगीरपुरी तक पहुंची। वहां तक पहुंचने के लिए बदमाशों ने तीन ऑटो बदले थे। टेक्निकल सर्विलांस और लोकल इंटेलिजेंस की मदद से पुलिस ने जी ब्लॉक से शिवम सोनकर उर्फ शिब्बू की पहचान की। इसके बाद सिद्धार्थ सोनकर और एक नाबालिग को पकड़ा गया।

इनसे पूछताछ के बाद ज्वेलर अश्विनी कुमार को भी दबोच लिया गया। इसके बाद शिवम सोनकर को अमृतसर पंजाब से पकड़ा गया। इनके पास से 21 लाख कैश और 15 लाख कीमत की ज्वेलरी बरामद हुई है। जहांगीरपुरी का रहने वाला शिवम सोनकर 18 मार्च को ही जेल से जमानत पर बाहर आया था। इसके बाद उसने तीन दिन के भीतर सेंधमारी की दो वारदात को अंजाम दिया। सिद्धार्थ अपने भाई शिवम की मदद से चोरी का सामान ठिकाने लगाता था। अश्वनी की जहांगीरपुरी में श्रीराम ज्वेलर्स के नाम से शॉप है। तीन साल पहले वह शिवम सोनकर के संपर्क में आया था और उससे चोरी की ज्वेलरी खरीदता था। चौथा आरोपी नाबालिग है।

5379487