Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

युवी की 10 खास बातें, जिसकी वजह से हुई टीम इंडिया में वापसी

कप्तान विराट कोहली का अहम रोल माना जा रहा है।

युवी की 10 खास बातें, जिसकी वजह से हुई टीम इंडिया में वापसी
X
नई दिल्ली. इंग्लैंड के खिलाफ तीन वनडे और इतने ही टी20 मैचों की सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान कर दिया गया है. टीम की घोषणा में सबसे चौंकाने वाला नाम युवराज सिंह का है जिनकी चार सालों बाद वनडे टीम में वापसी हुई है। धोनी के जाते ही उनकी टीम इंडिया में वापसी हो गई। इसमें कप्तान विराट कोहली का अहम रोल माना जा रहा है, लेकिन युवराज सिंह के लिए यह मौका लाइफलाइन भी साबित हो सकता है।
1. युवराज सिंह ने इस साल घरेलू क्रिकेट में लगातार रन बनाए हैं और फॉर्म में भी चल रहे हैं। इस साल रणजी में उन्होंने 8 मैचों में 724 रन बनाए हैं, जिसमें बड़ौदा के खिलाफ 260 और मध्यप्रदेश के खिलाफ 177 रन की पारियां खास रहीं।
2. युवराज सिंह दलीप ट्रॉफी में भी खेले थे लेकिन नाकाम रहे थे। पंजाब की ओर से 1997 में ही रणजी डेब्यू करने वाले युवी ने फर्स्ट क्लास मैचों में अब तक 133 मैचों में 8804 रन बनाए हैं।
3. इंटरनेशनल लेवल पर भी कुल मिलाकर 11000 से अधिक रन बना चुके युवराज सिंह की प्रतिभा पर किसी को संदेह नहीं है, लेकिन पिछली बार जब वह महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया की ओर से खेले थे, तो कुछ खास नहीं कर पाए थे।
4. अब जबकि चयनकर्ताओं ने घरेलू क्रिकेट में उनके प्रदर्शन को देखते हुए फिर मौका दिया है, तो उन्हें इसे हाथ से नहीं जाने देना होगा और भरोसे पर खरा उतरना होगा।
5. साल 2012 के बाद से युवराज के औसत पर नजर डाली जाए, तो उन्होंने 19 वनडे खेले हैं, जिनमें 18.53 के मामूली औसत से स्कोर किए हैं।
6. उन्होंने टीम इंडिया की ओर से आखिरी वनडे मैच दिसंबर, 2013 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन में खेला था। इस आखिरी वनडे सीरीज में उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा था। उन्‍हें कप्तान धोनी ने दो मैचों में मौका दिया था। एक में तो उन्हें बल्‍लेबाजी का मौका नहीं मिला, वहीं दूसरे में वह खाता भी नहीं खोल पाए थे।
7. युवराज सिंह को इससे पहले साल 2013 में वेस्‍टइंडीज के खिलाफ नवंबर, 2013 तीन वनडे खेलने को मिले, जिनमें उन्होंने केवल 99 रन ही बनाए थे, जिसमें एक फिफ्टी (55 रन) शामिल थी।
8. जबकि ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ इससे पहले की वनडे सीरीज में उनके बल्ले से 6 मैचों में 19 रन ही निकले थे. हालांकि इनमें से दो मैचों में उन्हें बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला था।
9. युवी ने आखिरी टी-20 ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 वर्ल्ड कप, 2016 में मोहाली में खेला था, जिसमें टीम इंडिया ने मैच तो जीत लिया था, लेकिन युवराज को शुरू में काफी संघर्ष करना पड़ा था। आखिरी के चार टी-20 मैचों में उन्होंने कुल 52 रन (4, 24, 3, 21) बनाए थे.
10. टीम इंडिया के टी-20 वर्ल्ड कप, 2007 और वनडे वर्ल्ड कप, 2011 जीतने में अहम भूमिका निभाने वाले युवराज सिंह को अब इस मौके को पूरी तरह भुनाना होगा। अन्यथा यह सीरीज उनके लिए आखिरी भी साबित हो सकती है।
तो वही दूसरी तरफ चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद ने कहा कि सीजन में युवराज ने अच्छा प्रदर्शन किया है. घरेलू क्रिकेट में उनके प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें टीम में वापस लेने का फैसला किया गया है।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story