Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अपनी आखिरी रेस पूरी तक नहीं कर पाया दुनिया का सबसे तेज रनर बोल्ट, ट्रैक पर गिरा

बोल्ट ने पूरी कोशिश की कि वो भाग सकें, लेकिन उनके शरीर ने उनका साथ नहीं दिया।

अपनी आखिरी रेस पूरी तक नहीं कर पाया दुनिया का सबसे तेज रनर बोल्ट, ट्रैक पर गिरा
X

दुनिया के सबसे तेज धावक उसेन बोल्ट अपनी कॅरियर की आखिरी रेस पूरी नहीं कर पाए। एक ओर जहां पूरी दुनिया की नजर उनके स्वर्णिम विदाई की आश में नजर बिछाए हुए थी, लेकिन इस बात का किसी को कोई अंदाजा नहीं था कि वो अपने कॅरियर की आखिरी रेस पूरी तक नहीं कर पाएंगे।

जमैका की 4 गुणा 100 मीटर की टीम में शामिल बोल्ट आखिरी लैप में दौड़ने के लिए तैयार थे। तीन जमैकाई धावकों ने अपना काम 300 मीटर तक पूरा कर दिया था लेकिन अंतिम दौर में उसेन बोल्ट थोड़ी दूर दौड़कर चोटिल हो गए और मैदान पर गिर पड़े। इस वजह से बोल्ट अपनी अंतिम दौड़ पूरी नहीं कर पाए।

4 गुणा 100 मीटर रिले का स्वर्ण पदक मेजबान ग्रेट ब्रिटेन के नाम रहा। सिल्वर अमेरिका और कास्य जापान के नाम रहा। ब्रिटेन ने 37.47 सेकेंड में रेस पूरी कर गोल्ड, अमेरिका ने 37.47 सेकेंड के साथ सिल्वर और जापान ने 38.04 सेकेंड के साथ कांस्य पदक हासिल किया।

इसी स्पर्धा में 100 मीटर व्यक्तिगत स्पर्धा में कांस्य पदक जीतने वाले बोल्ट से हर किसी को आस थी कि जमैकाई टीम के साथ 4 गुणा 100 मीटर रिले का स्वर्ण जीतकर वो स्वर्ण पदक के साथ ट्रैक को अलविदा कहेंगे। लेकिन चोट की वजह से वो अपनी आखिरी रेस तक पूरी नहीं कर सके।

सेमीफाइनल में बोल्ट की टीम ने 37.95 सेकेंड में ये दूरी तय की थी लेकिन फाइनल में उनका चोटिल होना निराशाजनकर रहा। उन्होंने चोटिल होने के बाद कुछ दूर तक दौड़ने की कोशिश की लेकिन उनके शरीर ने उनकी हिम्मत का साथ देने से इनकार कर दिया।

ब्रिटेन की टीम ने रिकॉर्ड समय (37.47 सेकेंड) में रेस पूरी की। ये ब्रिटेन का नया राष्ट्रीय और यूरोपीय रिकॉर्ड है। इससे पहले रिकॉर्ड 37.73 सेकेंड का था जो साल 1999 से कायम था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story