Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

फरार पहलवान सुशील कुमार गिरफ्तार, सागर धनखड़ की हत्या मामले में हैं मुख्य आरोपी

पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड मामले (Sagar Dhankhar Murder) में मुख्य आरोपी पहलवान सुशील कुमार (Sushil Kumar) को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Delhi police Special Cell) ने गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है।

दिल्ली पुलिस ने दिल्ली बॉर्डर से किया गिरफ्तार
X

फरार पहलवान सुशील कुमार गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Delhi police Special Cell) ने पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड मामले (Sagar Dhankhar Murder) में मुख्य आरोपी पहलवान सुशील कुमार (Sushil Kumar) को गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है। इसकी पुष्टी दिल्ली पुलिस ने खुद की है। बता दें कि सुशील कुमार को दिल्ली के बॉर्डर (Border of Delhi) से गिरफ्तार किया गया है। जिसके बाद अब उन्हें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (Video Confrencing) के जरिए डिस्ट्रिक्ट कोर्ट (District Court) में पेश किया जाएगा। वहीं सुशील के साथ उनके साथी को भी गिरफ्तार किया गया है। दो बार के ओलिंपिक मेडलिस्ट (Olympic Medalist) रह चुके पहलवान सुशील कई दिनों से इस मामले में फरार थे। जिसेक बाद उनके खिलाफ लुकआउट नोटिस (Lookout Notice) और गैर जमानती वारंट भी जारी किया गया था। वहीं सुशील ने गिरफ्तारी से बचने के लिए अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी लेकिन कोर्ट ने इसे खारिज कर दिया। इसके बाद दिल्ली के मॉडल टाउन एसीपी के नेतृत्व में दो इंस्पेक्टर और एक दर्जन पुलिसकर्मी उनकी तलाश में पंजाब गए थे। सुशील और उनके साथी को मोबाइल ट्रेसिंग के जरिए ढूंढ़ा गया। उनके खिलाफ पुलिस ने एक लाख रुपये का इनाम भी घोषित किया था। उनके साथी अजय पर 50 हजार रुपये का इनाम था।

बता दें कि 4 मई की रात को सागर धनखड़ समेत तीन लोगों का सुशील ने अपने साथियों के साथ अपहरण कर लिया था। जिसके बाद सुशील और उसके साथियों ने छत्रसाल स्टेडियम में इनके साथ मारपीट की थी जिसमें सागर की मौत हो गई। वहीं इस मामले में पुलिस ने कहा था कि छत्रसाल स्टेडियम में पहलवानों के दो गुटों में मारपीट हो गई थी, जिसमें 23 साल के सागर की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी। सागर के पिता दिल्ली पुलिस में कॉन्स्टेबल हैं।

वहीं ये झड़प मॉडल टाउन इलाके में एक फ्लैट को खाली कराने को लेकर हुई थी। तब से सुशील अपने साथियों के साथ फरार चल रहे थे। इसके बाद खबर आई थी कि सुशील हरिद्वार में एक बड़े आश्रम में छुपे हुए हैं। वहीं 6 मई को उन्हें मेरठ टोल नाके पर देखा गया था। हालांकि वह पुलिस के हाथ नहीं आ रहे थे। साथ ही उनके नेपाल भागने की फिराक में होने की बातें भी कही गई थीं। वहीं मृतक सागर के परिवार ने कहा था कि सागर पहले छत्रसाल स्टेडियम में ही रहता था और सुशील का शिष्य था। आठ साल तक सागर ने छत्रसाल स्टेडियम में ट्रेनिंग की थी और कई मेडल जीते थे। सागर के पिता अशोक ने कहा था कि अगर उनके बेटे ने कुछ गलत किया था तो उसे छत्रसाल से बाहर कर देते या उन्हें बताते। वह लोग सागर को समझाते लेकिन गुरु होकर भला वह (सुशील) सागर की जान कैसे ले सकते हैं?

लगातार बदले मोबाइल सिम

दिल्ली पुलिस ने बताया था कि सुशील कुमार लगातार मोबाइल सिम बदल रहे हैं। उनके कई रिश्तेदार और करीबी उनके छिपने में मदद कर रहे हैं। हालांकि, बताया गया था कि सुशील कुमार अब तक 15 से ज्यादा सिम खरीद चुके हैं जिनका इस्तेमाल वो अपने घर परिवार के लोगों से बात करने के लिए कर रहे हैं।

Next Story