Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

क्रिकेट में इस साल बना ये अजूबा रिकार्ड, 4 गेंदों पर ही बन गए 92 रन

बांग्लादेश के सेकंड डिवीजन लीग का ये मैच इसी साल एक्सिओम क्रिकेटर्स और लालामातिया क्लब के बीच खेला गया था।

क्रिकेट में इस साल बना ये अजूबा रिकार्ड, 4 गेंदों पर ही बन गए 92 रन

वैसे तो क्रिकेट को अनिश्चिताओं का खेल कहा माना जाता है इस खेल में पल भर में क्या हो जाए इसको तो कोई क्रिकट का विशेषज्ञ भी नहीं जानता होगा। हर रोज क्रिकेट में कोई न कोई रिकार्ड टूटते और बनते ही रहते हैं।

क्या आप 4 गेंदों पर 92 रन बनने की कल्पना कर सकते है नहीं न। तो हम आपको बताते हैं इस सच की कहानी।

इसे भी पढें: इस ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज से नाराज हुए सहवाग, गुस्से में बोले

इस कहानी में भारत के तेज गेंदबाज अशोक डिंडा भी शामिल है। इनके एक ओवर 30 रन बने थे जो इन्होंने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि मेरे एक ओवर में इतने रन बनेंगे लेकिन ये अनचाहा रिकार्ड डिंडा के नाम हो गया।

अब बात करते है 4 गेंदो पर 92 रनों की, बंग्लादेश की धरती पर बने इस रिकार्ड को शायद ही आप भूले हो, दराअसल मैच के दौरान कुछ यूं हुआ टॉस उछलने से पहले अंपायर ने टीम क् कप्तान को सिक्का नहीं दिखाया। बस यहीं से नाराजगी शूरू हो गयी। अंपायरिंग के विरोध में टीम ने 88 रनो के लक्ष्य के एबज में 92 रन बनवा दिए।

इसे भी पढें: VIDEO: कोहली ने बाउंड्री से फेंका इतना तेजत र्रार थ्रो, धोनी देखते ही रह गए, फिर हुआ ऐसा

इन टीमों के बीच खेला गया था मैच

बांग्लादेश के सेकंड डिवीजन लीग का ये मैच इसी साल में एक्सिओम क्रिकेटर्स और लालामातिया क्लब के बीच खेला गया था। लालामातिया क्लब ने पहले बेटिंग करके 50 ओवरों में सभी विकेट खोकर 88 रन बनाए थे। दूसरी पारी में एक्सिओम क्रिकेटर्स के बल्ल्बाज बेटिंग करने पिच पर आते हैं तो नाराजगी और बढ़ गई थी। क्रिकेटरों का आरोप था खराब अंपायरिंग और पक्षपात करना।

ऐसे बने रन

लालमातिया की तरफ से पहला ओवर कर रहे गेंदबाज ने सुजोन महमूद ने एक्सिओम के सलामी बल्लेबाज मुस्ताफिजुर रहमान को जानबूझकर 13 वाइड फेंकी, जिससे कुल 65 रन बन गए। फिर 15 रन तीन नोबॉल से बने और स्कोर 80 रन तक जा पहुंचा।

इसके बाद मुस्ताफिजुर रहमान ने 12 रन लीगल गेंदों पर बनाए, जिनमें कुल 4 गेंदें ही लीगल रहीं और उन्होंने 3गेंदो को चौके के लिए भेजा। एक्सिओम क्लब ने मैच 4 गेंदों पर 10 विकेट से जीत लिया।

ये मैच ढाका शहर के सिटी क्लब मैदान पर खेला गया था। इसके बाद बंग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने क्रिकेट के नियमो का अपमान मानते हुए गेंदबाज सुजोन महमूद को 10 साल के लिए क्रिकेट से आउट कर दिया था।

Share it
Top