Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

UP के क्रिकेट फैंस को IPL ने दिया बड़ा झटका, जानिए क्या है वजह

आईपीएल का 11वां सत्र सात अप्रैल से 27 मई तक चलेगा जबकि इसका उद्घाटन समारोह छह अप्रैल को मुंबई में होगा।

UP के क्रिकेट फैंस को IPL ने दिया बड़ा झटका, जानिए क्या है वजह

उत्तर प्रदेश को इस साल इंडियन प्रीमियर लीग के किसी भी मैच की मेजबानी का मौका नहीं मिलेगा चूंकि आईपीएल द्वारा जारी कलेंडर में राज्य के किसी स्टेडियम का नाम नही है। किसी भी फ्रेंचाइजी ने कानपुर के ग्रीन पार्क और लखनऊ के नव निर्मित इकाना स्टेडियम में मैच कराने में कोई रूचि नही दिखाई है। ग्रीन पार्क में पिछले दो साल गुजरात लायंस की टीम ने अपने दो-दो मैच खेले।

लेकिन उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ के पदाधिकारियों के मुताबिक आईपीएल चेयरमैन राजीव शुक्ला ने अपने गृहनगर में मैच के आयोजन के लिए व्यक्तिगत रूचि दिखाई थी और इसी वजह से कानपुर को ये मैच मिले। लेकिन कानपुर में अच्छे होटलों और हवाई अड्डे जैसी सुविधाओं का अभाव इस बार आईपीएल फ्रेंचाइजी मालिकों की बेरूखी का सबसे बड़ा कारण रहा।

इसे भी पढ़े: IPL शुरू होने से पहले ही इन 2 टीमों को लगा बड़ा झटका, इतने मैच नहीं खेलेंगे ये दिग्गज

यूपीसीए के सीईओ ललित खन्ना ने कहा- कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम को तो पहले ही इस बार किसी भी फ्रेंचाइजी आईपीएल टीम ने लेने में रूचि नही दिखाई थी। लेकिन लखनऊ के इकाना स्टेडियम में दिल्ली डेयर डेविल्स की दिलचस्पी थी और उनकी टीम ने इस महीने की शुरूआत में इकाना का दौरा भी किया था लेकिन पता नही बाद में क्या हुआ कि जब आईपीएल का कैलेंडर जारी हुआ तो उसमें लखनऊ का स्टेडियम भी शामिल नही है।

यूपीसीए के सूत्रों की मानें तो दिल्ली डेयरडेविल्स के अलावा दो साल के प्रतिबंध के बाद लौटी राजस्थान रायल्स के भी मैच लखनऊ में कराने की कोशिश की गई लेकिन रायल्स ने अपने घरेलू मैदान जयपुर को ही चुना। सूत्र कहते है कि अभी भी यूपीसीए इस बात को लेकर आशान्वित है कि अगर समय पर जयपुर का सवाई मानसिंह स्टेडियम तैयार न हो पाया तो शायद राजस्थान रायल्स के एक दो मैच अंतिम समय में लखनऊ के इकाना स्टेडियम की झोली में गिर जाए।

Share it
Top