Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारतीय पहलवान विनेश फोगाट का बड़ा धमाका, हासिल किया 2020 ओलंपिक का टिकट

25 साल की विनेश फोगाट ने रेसलिंग चैंपियनशिप में रेपचेज के एक मुकाबले में यूएसए की सारा एन को 8-2 से हराकर भारत की तरफ से 2020 के ओलंपिक में क्वालीफाई करने वाली पहली पहलवान बनी। इसके पहले भी विनेश ने गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल और जकार्ता एशियाई खेलों में भी गोल्ड मेडल जीता था।

भारतीय पहलवान विनेश फोगाट का बड़ा धमाका, हासिल किया 2020 ओलंपिक का टिकट

साल 2016 के ब्राजील के रियो ओलंपिक (Rio Olympics) में खेलते वक्त चोट लगने के बाद कुश्ती से दूरी बनाने वाली भारत की स्टार खिलाड़ी विनेश फोगाट एकबार फिर से ओलंपिक में खेलती नजर आएंगी। विनेश ने विश्व कुश्ती चैंपियनशिप (World wrestling championships) में शानदार प्रदर्शन करते हुए 2020 के ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर लिया है।

25 साल की विनेश फोगाट (Vinesh Phogat) ने रेसलिंग चैंपियनशिप में रेपचेज के एक मुकाबले में यूएसए की सारा एन को 8-2 से हराकर भारत की तरफ से 2020 के ओलंपिक में क्वालीफाई करने वाली पहली पहलवान बनी। इसके पहले भी विनेश ने गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल और जकार्ता एशियाई खेलों में भी गोल्ड मेडल जीता था।

2013 के एशियन रेसलिंग चैंपियनशिप में वह 51 किलोग्राम वर्गभार में कांस्य पदक जीतकर पहली बार राष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बनाई। इसके बाद कॉमनवेल्थ गेम में उतरी और वहां गोल्ड जीता। इसके कुछ दिन बाद ही एशियन गेम्स में सभी पहलवानों को चित करते हुए गोल्ड पर कब्जा जमाया।


एशियन गेम्स में जिस खिलाड़ी को विनेश ने चित किया था वही 2016 के ओलंपिक में चोट दे गया। चोट का असर ये हुआ कि वह रिंग में तो उतरी पर मुकाबला जीतने में सफल नहीं हो सकी। उनकी इस बहादुरी के लिए उन्हें अर्जुन अवार्ड से नवाजा गया।

ओलंपिक में चोटिल होने के बाद तो लगा कि उनका कैरियर यहीं ठप्प हो जाएगा पर विनेश ने हार नहीं मानी और करीब डेढ़ साल बेड पर रहने के बाद वापसी करते हुए पदक पर पदक जीतते हुए ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर लिया। हालिया प्रदर्शन देखकर साफ लगता है कि इसबार विनेश किसी तरह की चूक नहीं करना चाहती।

Next Story
Top