Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ICC World Cup 2019 : पहले ही मैच में बांग्लादेश का उलटफेर, अपना सर्वोच्च स्कोर बनाकर दक्षिण अफ्रीका को दी बड़ी मात

बांग्लादेश ने शाकिबुल हसन (75) और मुश्फिकर रहीम (78) के अर्धशतकों के बाद अच्छी गेंदबाजी की बदौलत आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के मैच में दक्षिण अफ्रीका को 21 से हराकर जीत से अपना अभियान शुरू किया।

ICC World Cup 2019 : पहले ही मैच में बांग्लादेश का उलटफेर, अपना सर्वोच्च स्कोर बनाकर दक्षिण अफ्रीका को दी बड़ी मात

बांग्लादेश ने शाकिबुल हसन (75) और मुश्फिकर रहीम (78) के अर्धशतकों के बाद अच्छी गेंदबाजी की बदौलत आईसीसी क्रिकेट विश्व कप के मैच में दक्षिण अफ्रीका को 21 से हराकर जीत से अपना अभियान शुरू किया और वनडे में सर्वश्रेष्ठ स्कोर भी खड़ा किया। यह दक्षिण अफ्रीका की टूर्नामेंट में दूसरी हार है, उसे शुरूआती मैच में गुरूवार को मेजबान इंग्लैंड से 104 रन की करारी शिकस्त झेलनी पड़ी थी।

बांग्लादेश ने शाकिबुल और मुश्फिकर के बीच तीसरे विकेट के लिये 142 रन की भागीदारी से छह विकेट पर 330 रन बनाकर एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच के अलावा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ और आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में भी अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया। कप्तान मशरफी मुर्तजा की टीम ने कैच लेने के कई मौके गंवाने के बावजूद दक्षिण अफ्रीका के लगातार अंतराल पर विकेट हासिल किये और उसे 50 ओवर में आठ विकेट पर 309 रन ही बनाने दिये।

दक्षिण अफ्रीका पर यह जीत बांग्लादेश के लिये 2007 विश्व कप की जीत से ज्यादा बड़ी होगी। वनडे में बांग्लादेश का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन पाकिस्तान के खिलाफ 2015 में 329 रन का था। उनका विश्व कप में सर्वश्रेष्ठ स्कोर 2015 में ही स्काटलैंड के खिलाफ चार विकेट पर 322 रन था और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 2017 में 278 रन का था। शाकिबुल और मुश्फिकर की तीसरे विकेट के लिये 142 रन की भागीदारी विश्व कप में बांग्लादेश की सर्वश्रेष्ठ साझेदारी भी है।

इन दोनों के अलावा सलामी बल्लेबाज सौम्य सरकार ने 42 और अंत में महमूदुल्लाह ने नाबाद 46 रन का योगदान दिया। इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बांग्लादेश ने मुस्तफिजुर रहमान और आफ स्पिनर मेहदी हसन मिराज से शुरूआत की। उन्हें पहली कामयाबी 10वें ओवर में क्विंटन डि कॉक (23) को रन आउट करके मिली जो ऐडन मार्कराम के साथ हुई गफलत में मुश्फिकुर रहीम द्वारा रन आउट हुए।

मार्कराम (45 रन) और कप्तान फाफ डु प्लेसिस (62 रन) ने टीम को 19वें ओवर के अंत तक 100 रन तक पहुंचाया। लेकिन अगले ओवर में शाकिबुल की गेंद पर मार्कराम बोल्ड हो गये जो बांग्लादेश के इस गेंदबाज का 250वां विकेट भी था। फिर डेविड मिलर क्रीज पर उतरे जो इंग्लैंड के खिलाफ शुरूआती मैच में नहीं खेल पाये थे। 25वें ओवर में डु प्लेसिस ने मोसादेक हुसैन की गेंद पर छक्के के लिये भेजकर अपने 50 रन पूरे किये।

मेहदी हसन मिराज ने दूसरे स्पैल में कप्तान डुप्लेसिस (53 गेंद में पांच चौके और एक छक्का) को बोल्ड को दक्षिण अफ्रीका को करारा झटका दिया। मेहदी हसन की खूबसूरत गेंद सीधे डुप्लेसिस के स्टंप उखाड़ती हुई गयी जिसके बाद बांग्लादेशी टीम और प्रशंसकों में खुशी की लहर दौड़ गयी। इस तरह 27वें ओवर तक टीम का स्कोर तीन विकेट पर 147 रन हो गया। दक्षिण अफ्रीकी टीम पर दबाव बढ़ता जा रहा था जिससे मिलर (38 रन) और रासी वान डर दुसेन (41 रन) संभलकर खेल रहे थे।

मुस्तफिजुर ने दक्षिण अफ्रीका को चौथा झटका मिलर को आउट कर दिया जिनका शानदार कैच मेहदी हसन ने लपका। कई बार टीम को मुश्किल परिस्थितियों से निकालने वाले वान डर दुसेन डटे हुए थे और टीम उनसे उम्मीद लगाये थी लेकिन वह खराब शाट खेलने का शिकार हुए, उन्हें मोहम्मद सैफुद्दीन की गेंद ने बोल्ड किया। सैफद्दीन ने ही एंडिले फेलुकवायो का विकेट हासिल किया।

फिर अंतिम पांच ओवर में टीम को जीत के लिये 63 रन चाहिए थे। मुस्तफिजुर रहमान ने 46वें ओवर में क्रिस मौरिस (10) का विकेट हासिल किया। जेपी डुमिनी (45) से उम्मीद लगी हुई थी, पर वह 48वें ओवर में मुस्तफिजुर रहमान की धीमी बाउंसर गेंद पर बोल्ड हो गये। कागिसो रबाडा 13 और इमरान ताहिर 10 रन बनाकर नाबाद रहे। इससे पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद तमीम इकबाल और सौम्य सरकार की सलामी जोड़ी ने अच्छी शुरूआत करायी।

दोनों बीच बीच में शाट लगाते रहे। पर एंडिले फेलुकवायो (52 रन देकर दो विकेट) ने अपनी टीम को पहली सफलता दिलायी। उन्होंने अपने पहले ही ओवर में दूसरी गेंद पर तमीम (16 रन) को आउट कर दिया जो बल्ले का किनारा लगने से विकेटकीपर क्विंटन डिकॉक को आसान कैच दे बैठे। इस तरह पहले विकेट के लिये 60 रन की भागीदारी का अंत हुआ। फिर बांग्लादेश के भरोसेमंद शाकिबुल (84 गेंद में आठ चौके और एक छक्के) क्रीज पर उतरे

आते ही उन्होंने दुनिया के शीर्ष रैंकिंग के वनडे आलराउंडर कागिसो रबाडा पर प्वाइंट पर चौका लगाया जो एक भी विकेट नहीं झटक सके। दक्षिण अफ्रीका ने 12वें ओवर में गेंदबाजी में बदलाव किया और क्रिस मौरिस (73 रन देकर दो विकेट) की शार्ट गेंद पर खतरनाक दिख रहे सौम्य सरकार भी विकेटकीपर के शानदार कैच से पवेलियन लौट गये। फिर क्रीज पर उतरे मुश्फिकर ने मौरिस के इस ओवर की अंतिम गेंद पर चौका जड़कर हाथ खोले।

दोनों सलामी बल्लेबाजों के जाने से रन गति थोड़ी धीमी हुई, पर 16वें ओवर में शकिबुल ने पारी का पहला छक्का जड़ा और इसी ओवर के अंत में टीम ने 100 रन भी पूरे किये। शकिबुल और मुश्फिकर ने दक्षिण अफ्रीकी आक्रमण के खिलाफ सहजता से खेलते हुए रन जुटाना जारी रखा, इसी क्रम में शकिबुल ने अपना अर्धशतक भी पूरा किया। उन्होंने मौरिस की गेंद पर फाइन लेग पर चौका जड़कर 54 गेंद में 43वां वनडे पचासा जड़ा।

जिसके बाद बांग्लादेशी दर्शकों में काफी उत्साह दिखा। दक्षिण अफ्रीकी कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने विकेट हासिल करने की मुहिम में अनुभवी आल राउंडर जेपी डुमिनी को आक्रमण पर लगाया लेकिन मुश्फिकर ने उनके ओवर में दो चौके लगाकर इरादे जाहिर कर दिये। मुश्फिकर ने भी फेलुकवायो की गेंद पर चौके से 52 गेंद में अपना 34वां अर्धशतक पूरा किया। दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज विकेट नहीं चटका पाने से थोड़े हताश दिख रहे थे और इसी दौरान बांग्लादेश ने 32वें ओवर के अंत में 200 रन भी पूरे कर लिये।

शाकिबुल और मुश्फिकर ने इस दौरान 142 रन की भागीदारी कर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे में तीसरे विकेट के लिये सर्वश्रेष्ठ साझेदारी भी बनायी। यह इन दोनों के बीच वनडे में पांचवीं शतकीय भागीदारी भी है जो शाकिबुल के इमरान ताहिर की गेंद पर बोल्ड होने से टूटी। शाकिबुल ने ताहिर की गेंद को स्वीप करने का प्रयास किया जिससे उनके स्टंप उखड़ गये, इस तरह ताहिर ने अपनी टीम को महत्वपूर्ण विकेट दिलाया।

ताहिर (57 रन देकर दो विकेट) ने फिर मोहम्मद मिथुन (21) के रूप अपना दूसरा विकेट हासिल किया जिन्हें भी उन्होंने बोल्ड किया। फेलुकवायो ने अपने दूसरे स्पैल में मुश्फिकर की पारी समाप्त की जो 80 गेंद में आठ चौके से 78 रन बनाकर आउट हुए। विश्व कप के शुरूआती मैच में दक्षिण अफ्रीका के अनुभवी सलामी बल्लेबाज हाशिम अमला के हेलमेट पर जोफ्रा आर्चर की गेंद लग गयी थी जिससे वह आज मैच में उपलब्ध नहीं हो पाये। और टीम के लिये एक बुरी खबर यह भी रही कि तेज गेंदबाज लुंगी एनगिडी (चार ओवर में बिना विकेट के 34 रन) हैमस्ट्रिंग का उपचार करते दिखायी दिये और इसके बाद गेंदबाजी के लिये नहीं उतरे।

Next Story
Top