Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

IPL 2020 : यूएई में क्रिकेटर को रहना होगा 14 दिन क्वारंटाइन? जानिए ट्रेवलर्स के लिए यूएई में क्या है नियम

ipl 2020 uae : यूएई में बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए 14 दिनों का क्वारंटाइन जरुरी नहीं है, लेकिन उनके पास 4 दिन पुरानी कोरोना रिपोर्ट होनी जरुरी है जिसमे उनका रिजल्ट नेगेटिव हो। वहीं जिन यात्रियों के पास कोरोना रिपोर्ट नहीं होगी, वहीं जिनकी संदिग्ध रिपोर्ट होगी उनकी जांच एयरपोर्ट पर ही की जाएगी

IPL 2020: पतंजलि नहीं इस कंपनी को मिल सकता है टाइटल स्पांसर राइट्स
X
IPL 2020

ipl 2020 uae : यूएई में 19 सितंबर से आईपीएल 2020 का आगाज होने जा रहा है, बस इसको लेकर भारतीय सरकार की मंजूरी का ही इंतजार है। आईपीएल गवर्निंग कॉउन्सिल की मीटिंग भी 1 अगस्त और आने वाले दिनों में आईपीएल 2020 के फुल शेड्यूल को लेकर होने जा रही है, इसके बाद अगस्त के तीसरे हफ्ते में प्लेयर्स यूएई पहुंचना आरंभ कर सकते हैं।

कोरोनावायरस के बीच खेली जाने वाली इस बड़ी क्रिकेट लीग में 8 टीम हिस्सा लेगी, और 200 से अधिक क्रिकेटर्स इसमें शामिल होंगे। देश विदेश से आईपीएल 2020 में हिस्सा लेने वाले क्रिकेटर्स के यूएई में पहुंचने से पहले कोरोनावायरस टेस्ट किए जाएंगे, जिसके बाद ही उन्हें यूएई जाने की इजाजत प्राप्त होगी। चलिए आपको बताते हैं कि यूएई में कोरोनावायरस को लेकर बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए क्या प्रोटोकॉल है।

14 दिन का क्वारंटाइन जरुरी नहीं

एक वेबसाइट के मुताबिक यूएई में बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए 14 दिनों का क्वारंटाइन जरुरी नहीं है, लेकिन उनके पास लेटेस्ट कोरोना रिपोर्ट होनी जरुरी है जिसमे उनका रिजल्ट नेगेटिव हो। वहीं जिन यात्रियों के पास कोरोना रिपोर्ट नहीं होगी, वहीं जिनकी संदिग्ध रिपोर्ट होगी उनकी जांच एयरपोर्ट पर ही की जाएगी, जिसमे कुछ दिनों का समय लगेगा और तब तक उन्हें क्वारंटाइन में रहना होगा। बीसीसीआई उन सभी क्रिकेटर्स और स्टाफ की कोरोना जांच करवाएगी, जिन्हे आईपीएल 2020 में हिस्सा लेना है।

Also Read - विराट कोहली और स्टीव स्मिथ, रोनाल्डो और मेस्सी- जेम्स एंडरसन ने चुना बेस्ट खिलाड़ी

यूएई में उनके देश की एप (जैसे भारत में आरोग्य सेतु ऐप) को मोबाइल फोन में डाउनलोड करना होगा, जिसमे कोरोना सम्बन्धी जानकारी दी जाएगी। वहीं यूएई में पहुंचने वाले सभी लोगों का इन्शुरन्स होना भी आवश्यक है, और यह सुनिश्चित करना होगा कि अगर उन्हें मेडिकल की जरुरत पड़ती है या कोई समस्या होती है तो उसके वह स्वयं जिम्मेदार होंगे, और खर्च खुद वहन करेंगे।

Next Story