Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बीजेपी सांसद Gautam Gambhir आतिशबाजी पर नाराज, कहा- खुशी मानाने का समय नहीं

Gautam Gambhir : राष्ट्रपति से लेकर प्रधानमंत्री और तमाम मंत्रियों ने इस कैंपेन में हिस्सा लिया, और अपने घरों पर दीप जलाएं। लेकिन इस दौरान कुछ लोगों ने आतिशबाजियां (Burst Crackers) भी की, जिसकी खूब आलोचना हुई। बीजेपी सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर (BJP MP Gautam Gambhir) ने भी पठाखें फोड़ने और आतिशबाजियां करने पर नाराजगी जाहिर की है।

गौतम गंभीर बोले कोरोना रहेगा साथ, क्रिकेटर्स को डालनी होगी इसकी आदत!
X
गौतम गंभीर (File Image)

Coronavirus : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के आह्वाहन पर 5 अप्रैल को देशभर में रात 9 बजे लोगों ने अपने घरों की लाइट बंद की। इस दौरान लोगों ने दीयों, मोमबत्तियां, मोबाइल टॉर्च को जलाकर देशभर में रौशनी की, और एकजुटता का संदेश दिया। राष्ट्रपति से लेकर प्रधानमंत्री और तमाम मंत्रियों ने इस कैंपेन में हिस्सा लिया, और अपने घरों पर दीप जलाएं। लेकिन इस दौरान कुछ लोगों ने आतिशबाजियां (Burst Crackers) भी की, जिसकी खूब आलोचना हुई।

बीजेपी सांसद और पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर (BJP MP Gautam Gambhir) ने भी पटाखे फोड़ने और आतिशबाजियां करने पर नाराजगी जाहिर की है। गौतम गंभीर ने लिखा कि भारत अभी भी इस कोरोनावायरस जैसी महामारी (Covid 19 Pandemic) से जूझ रहा है, यह कोई ऐसा मौका नहीं है कि हम पटाखे/आतिशबाजियां (Fire Crackers) करके खुशी मनाएं।

देश भर में कई जगह फोड़े गए

ऐसा नहीं है कि सिर्फ दिल्ली या उत्तर भारत (North India) में लोगों ने पटाखे फोड़ें, बल्कि पूरे भारत में कई जगहों से ऐसी घटनाए सामने आई। गौतम गंभीर के आलावा पूर्व गेंदबाज इरफान पठान (Former bowler Irfan Pathan) ने भी ट्वीट कर लिखा, ये सब बहुत अच्छा था जब तक आतिशबाजियां नहीं हुई थी। दरअसल भारत देश यहां मेडिकल स्टाफ/पुलिस कर्मियों (Medical Staff In India/Police) समेत कई लोगों को धन्यवाद देने के लिए दीयों की रौशनी कर रहा था, ऐसा नहीं है कि भारत ने कोरोनावायरस को खत्म कर दिया हो, या इस पर जीत पा ली हो। कोरोनावायरस को लेकर सबसे बड़ा खतरा तो अब शुरू हो सकता है, खबरों की माने तो इसी हफ्ते कोरोनावायरस अपनी अगली स्टेज में आ सकता है।

और पढ़ें
Next Story