Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गौरी लंकेश हत्याकांड : कन्नड़ पत्रकार आरोपी ऋषिकेश डिवारिकर हुआ गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

गौरी लंकेश हत्याकांड : कन्नड़ के पत्रकार गौरी लंकेश के हत्यारे ऋषिकेश डिवारिकर को झारखंड के कतरास जिले से गिरफ्तार कर लिया गया है। बेंगलुरु की एसआईटी ने स्थानीय पुलिस की मदद से कतरास जिले के उद्योगपति प्रदीप खेमका के घर पर छापा मारा, जहां आरोपी सात महीने से केयर टेकर का काम कर रहा था।

गौरी लंकेश हत्याकांड: कन्नड़ पत्रकार आरोपी ऋषिकेश डिवारिकर हुआ गिरफ्तार, जानें पूरा मामलागौरी लंकेश हत्याकांड

गौरी लंकेश हत्याकांड : बेंगलुरु की एसआईटी (विशेष जांच दल) को कन्नड़ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या में एक और सफलता मिली है। जहां टीम ने गुरुवार को झारखंड के कतरास जिले से आरोपी ऋषिकेश डिवारिकर को गिरफ्तार कर लिया गया है। यह गिरप्तारी स्थानीय पुलिस की मदद से उद्योगपति प्रदीप खेमका के घर पर छापेमारी के दौरान की गई।

दरअसल आरोपी अपनी पहचान छुपाकर सात महीने से झारखंड के कतरास जिले में उद्योगपति प्रदीप खेमका के घर पर केयर टेकर का काम कर रहा था। हांलाकि वह महाराष्ट्र के औरंगाबाद का रहने वाला है। सूचना मिलने के बाद बेंगलुरु की एसआईटी (विशेष जांच दल) ने स्थानीय पुलिस के साथ उनके घर पर छापे मारकर आरोपी को रगें हाथ पकड़ लिया गया है।

हांलाकि अभी तक उनके घर पर सबूतों के लिए तलाश जारी है, जिसके बाद शुक्रवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया जाएगा। उसके बाद ही आरोपी को ट्रांजिट रिमांड पर बेंगलुरु ले जाया जाएगा।

जानें क्या था गौरी लंकेश हत्याकांड का पूरा मामला

बेंगलुरु की रहने वाली गौरी लंकेश एक सोशल एक्‍ट‍िविस्‍ट के साथ कन्नड़ के पत्रकार भी थी। वह कन्‍नड़ साप्‍ताहिक अखबार 'लंकेश पत्रिके' की संपादक थी, जो उनके पिता पी. लंकेश ने शुरू किया था। गौरी लंकेश ने अपने करियर की शुरुआत बेंगलुरु में 'टाइम्‍स ऑफ इंडिया' से की थी। उसके बाद कुछ समय के लिए वह दिल्‍ली आई और फिर वापस बेंगलुरु लौट कर संडे' मैग्‍जीन और इनाडु के तेलुगू चैनल के साथ काम करना शुरू किया था। इसके बाद गौरी ने अपना साप्‍ताहिक अखबार 'गौरी लंकेश पत्रिके' का भी प्रकाशन शुरू किया। जानकारी के मुताबिक लंकेश पर शुरू से ही नक्‍सल समर्थक और हिंदुत्‍व विरोधी होने के आरोप लगते रहे हैं। इसी बीच 5 सितंबर 2017 को बेंगलुरु में उनके घर के बाहर दिनदहाड़े गोली मारकर उनकी हत्या कर दी गई थी।

Priyanka Kumari

Priyanka Kumari

Jr. Sub Editor


Next Story
Top