Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Haribhoomi-Inh News: शहबाज बनेंगे 'शरीफ' ?, 'चर्चा' प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी के साथ

Haribhoomi-Inh News: हरिभूमि-आईएनएच के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने शुरुआत में कहा कि नमस्कार आपका स्वागत है हमारे खास कार्यक्रम चर्चा में, आज एक बार फिर हम आंतर्राष्ट्रीय विषय पर चर्चा कर रहे हैं।

Haribhoomi-Inh News: शहबाज बनेंगे शरीफ ?, चर्चा प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी के साथ
X

Haribhoomi-Inh News: हरिभूमि-आईएनएच के खास कार्यक्रम 'चर्चा' में प्रधान संपादक डॉ. हिमांशु द्विवेदी ने शुरुआत में कहा कि नमस्कार आपका स्वागत है हमारे खास कार्यक्रम चर्चा में, आज एक बार फिर हम आंतर्राष्ट्रीय विषय पर चर्चा कर रहे हैं। चर्चा में हमारा विषय है शहबाज बनेंगे 'शरीफ' ? आखिरकार एक महीने तक चल रही उथल पुथल के बाद बीते दिनों इमरान खान की पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के पद से विदाई हो गई और संयुक्त सत्र में शहबाज शरीफ, जो कि नवाज शरीफ के छोटे भाई हैं। कई बार पंजाब के मुख्यमंत्री रह चुके। उनको बतौर प्रधानमंत्री चुना।

देश के राष्ट्रपति ने उनको शपथ दिलाई। जिसके चलते सीनेट की चेयरमैन को राष्ट्रपति पद की शपथ दिलाई गई। एक खबर हम आपके बीच में साझा कर रहे है कि इसी दौरान खबर ये भी आ रही थी है जो पाकिस्तान के नई प्रधानमंत्री हैं। वह अपनी कैबिनेट का भी गठन करेंगे। दो पार्टियों के बीच जो समझैता हुआ है उसके तहत बेनजीर भुट्टो के बेटे बिलावल भुट्टो एक अहम किरदार के तौर पर मंत्रीमंडल में शामिल होंगे।

पाकिस्तान के संदर्भ में ये पूरा घटनाक्रम इसलिए करता है कि यू तो पाकिस्तान के 75 साल के इतिहास में कोई भी हुक्कुमत लोकतांत्रिक तरीके से 5 साल तक नहीं चल पाई। किसी भी पीएम ने 5 साल तक अपना कार्यकाल पूरा नहीं किया है। इससे पहले का जो इतिहास था। जब जब जो सरकार में होता था। जनता के द्वारा चुना गया प्रधानमंत्री घर बैठा दिया जाता था और सरकार आर्मी चलाया करती थी। लेकिन इस बार अपवाद हुआ और जनता के द्वारा चुना गए पीएम की लोकतांत्रिक तरीके से विदाई हुई है और उसी तरीके से अपने बीच में से पीएम को बना भी दिया। क्या ये लोकतंत्र की पाकिस्तान में मजबूती है। इसी पर आज हम बात कर रहे हैं, कई मेहमान हमारे साथ हैं.....

शहबाज बनेंगे 'शरीफ' ?

'चर्चा'

और पढ़ें
Next Story