Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Bharat Bandh: किसानों का हल्ला बोल, शुक्रवार को सुबह 6 से शाम 6 बजे तक भारत बंद

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, संयुक्ता किसान मोर्चा (एसकेएम) ने देश के नागरिकों से 26 मार्च के भारत बंद को पूरी तरह सफल बनाने का अनुरोध किया है।

Bharat Bandh: किसानों का हल्ला बोल, शुक्रवार को सुबह 6 से शाम 6 बजे तक भारत बंद
X

Bharat Bandh: केंद्र की मोदी सरकार के द्वारा लाए गए (New Farm Bill) कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन (Farmers Protest) जारी है। किसान 4 महीने से दिल्ली की सीमाओं पर कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन अभी सरकार कृषि कानूनों को रद्द करने के लिए तैयार नहीं हुई है। इसी बीच 26 मार्च को भारत बंद का ऐलान किया गया।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, संयुक्ता किसान मोर्चा (एसकेएम) ने देश के नागरिकों से 26 मार्च के भारत बंद को पूरी तरह सफल बनाने का अनुरोध किया है। समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, एसकेएम ने 26 मार्च (शुक्रवार) को सुबह 6 से शाम 6 बजे यानी 12 घंटे तक भारत बंद का आह्वान किया है। इस दौरान पूरे देश में सभी सड़क और रेल परिवहन, बाजार और अन्य सार्वजनिक स्थान बंद रहेंगे।

जानकारी के अनुसार, किसान नेता दर्शन पाल का कहना है कि हम देश के नागरिकों से इस (Bharat Bandh) भारत बंद को सफल बनाने और 'अन्नदाता' का सम्मान करने का अनुरोध हैं। वहीं, आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस पार्टी (वाईएसआरसीपी) ने 26 मार्च को भारत बंद को समर्थन दिया है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि बड़ी संख्या में किसान दिल्ली सीमा स्थित सिंघू, टिकरी और गाजीपुर में डेरा डाले हुए हैं। यह किसान बीते चार महीने से कृषि कानूनों को रद्द करने और उनकी फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) कानूनी गारंटी की मांग कर रहे हैं।

किसान नेता बूटा सिंह बुर्जगिल ने दिया था ये बयान

बता दें कि किसान नेता बूटा सिंह बुर्जगिल ने बीते दिनों कहा था कि कानूनों के खिलाफ हमारा विरोध 4 महीने (120 दिन) पूरे होने पर हम 26 मार्च को पूर्ण भारत बंद रखेंगे। शांतिपूर्ण भारत बंद सुबह से शाम तक प्रभावी रहेगा। इसके अलावा किसान नेताओं ने यह भी कहा कि 'होलिका दहन' के दौरान कृषि कानूनों की प्रतियां भी जलाई जाएंगी।

Next Story