Logo
election banner
BJP Manifesto Reaction: कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने रविवार को कहा कि बीजेपी के मैनिफेस्टो पर विश्वास नहीं किया जाना चाहिए। इसके बाद केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने पलटवार किया। जानिए किसने मैनिफेस्टो पर क्या कहा?

BJP Manifesto Reaction: कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने रविवार को लोकसभा चुनाव 2024 बीजेपी के मैनिफेस्टो को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री ने बीते दस साल में गरीबों के लिए भी कुछ नहीं कर सके। खड़गे ने कहा कि कांग्रेस नेता किसानों की आय दोगुना करने और फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) बढ़ाने और इस पर लीगल गारंटी देने का वादा किया था। देश भर के किसान भी यही मांग कर रहे हैं। इस साल किसानों ने केंद्र सरकार से अपनी मांगों को पूरा करने की मांग करते हुए बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन भी किया था। 

देश का युवा रोजगार की तलाश में
खड़गे ने कहा कि देश का युवा रोजगार की तलाश में है। महंगाई बढ़ रही है। उन्हें इन सब बातों की चिंता नहीं है। प्रधानमंत्री ने अपने कार्यकाल में ऐसा कोई भी काम नहीं किया है जिसे देश के लोगों का भला है। यह साबित करता है कि पीएम के पास देश के लोगों को देने के लिए कुछ भी नहीं है। कांग्रेस नेता ने कहा कि बीजेपी के मैनिफेस्टो पर विश्वास नहीं किया जाना चाहिए। 

बीजेपी के मैनिफेस्टो से बेरोजगारी और महंगाई शब्द गायब
राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी के मैनिफेस्टो और नरेंद्र मोदी के भाषण से महंगाई और बेरोजगारी शब्द गायब हैं। लोगों के जीवन से जुड़े सबसे अहम मुद्दों पर भाजपा चर्चा तक नहीं करना चाहती। INDIA का प्लान बिलकुल स्पष्ट है। 30 लाख पदों पर भर्ती और हर शिक्षित युवा को 1 लाख की पक्की नौकरी देना है। युवा इस बार मोदी के झांसे में नहीं आने वाले। अब देश के युवा कांग्रेस का हाथ मजबूत कर देश में ‘रोजगार क्रांति’ लाएगा।

यह एक शून्य घोषणापत्र: हरीश रावत
उत्तराखंड के पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता हरीश रावत ने कहा कि "यह एक शून्य घोषणापत्र है, हमारा कार्य नीति से संबंधित है। बीजेपी ने कभी भी घोषणापत्र को गंभीरता से नहीं लिया है। लोग उनके वादों को जानते हैं। भाजपा की कथनी और करनी में बहुत अंतर है। यूसीसी को लेकर आदिवासियों, सिखों और अन्य समुदायों में नाराजगी थी। इसलिए उन्होंने (भाजपा) उत्तराखंड को मोहरा बनाया ताकि वे प्रचार कर सकें। लोग इस बार भाजपा की हार होने वाली है, लोग बदलाव के लिए वोट करने जा रहे हैं। 

हरदीप सिंह पुरी ने कहा- कांग्रेस और बीजेपी की मुफ्तखोरी में अंतर है
मल्लिकार्जुन खड़गे के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि पीएम मोदी ने महामारी के दौरान गरीब परिवारों को सूखा राशन उपलब्ध कराने की जो शुरुआत की है, आज उसे अगले 5 साल तक जारी रखने की घोषणा की गई। अगर हम 3 करोड़ घर बनाएंगे तो इससे रोजगार पैदा होगा।

अगर अर्थव्यवस्था 7-8% की दर से बढ़ रही है, पिछली तिमाही में यह 8.6% थी और हम पांचवें से तीसरे स्थान की ओर बढ़ रहे हैं, इससे पता चलता है कि विनिर्माण क्षेत्र बढ़ रहा है और रोजगार पैदा हो रहा है। उन्होंने (मल्लिकार्जुन खड़गे) पूछा कि हमारी (कांग्रेस) और आपकी (भाजपा) मुफ्तखोरी में क्या अंतर है, मैं कहना चाहूंगा कि बहुत अंतर है। हमने जो भी कहा है। 2014 हमने इसे 2019 तक पूरा कर लिया, एक चीज रह गई वह है यूसीसी, हमने आज कहा कि हम अगले 5 वर्षों में उसे भी पूरा करेंगे।

तेजस्वी यादव ने भी साधा निशाना
बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा कि बीजेपी के घोषणापत्र में युवाओं का कोई जिक्र नहीं है। 80 फीसदी किसान हैं लेकिन उनके बारे में कोई जिक्र नहीं है। आखिर कैसे?" बहुत सारी नौकरियां दी जाएंगी, रोजगार पर कोई चर्चा नहीं हुई, बिहार जैसे गरीब राज्य को आगे बढ़ाने के लिए कोई विशेष पैकेज का जिक्र नहीं हुआ, न ही बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने का कोई जिक्र हुआ। गरीबी कैसे दूर करें या महंगाई कैसे कम करें इस पर भी कुछ नहीं कहा गया है। यह सब जानते हैं कि पिछले 10 साल में बीजेपी वालों ने क्या कहा और क्या किया है? 

बीजेपी ने जारी किया संकल्प पत्र
बीजेपी ने रविवार को अपना घोषणापत्र 'संकल्प पत्र' को माेदी की गारंटी टैगलाइन के साथ जारी किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और पार्टी के दूसरे नेताओं की मौजूदगी में पार्टी हेडक्वार्टर में जारी किया गया। इस संकल्प पत्र में बीजेपी ने देश में समान नागरिक संहिता लागू करने, किसान सम्मान निधि को जारी रखने, मुद्रा योजना के तहत 20 लाख रुपए तक का कर्ज देने समेत कई अहम घोषणाएं की गई हैं।

5379487