Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अथश्री 'काली' कथा : वर्धा से निकले रायपुर में अटके, अब 25 जनवरी तक जेल में कटेंगी काली रातें

पिछले साल 26 दिसंबर को रायपुर के रावाभाटा इलाके में धर्म संसद का आयोजन किया गया था। यहां पर कालीचरण ने महात्मा गांधी के लिए अपशब्द कहे। जिसके बाद पूरे देश में बवाल मच गया। गिरफ़्तारी के बाद से जमानत के लिए जद्दोज़हद कर रहे कालीचरण को अभी भी रहत नहीं मिली है। रायपुर की कोर्ट ने कहा महात्मा गांधी को गाली देने वाले को जमानत नहीं- 25 जनवरी तक जेल में रहना होगा। पढ़िए पूरी ख़बर...

अथश्री काली कथा : वर्धा से निकले रायपुर में अटके, अब 25 जनवरी तक जेल में कटेंगी काली रातें
X

रायपुर: 12 जनवरी की रात महाराष्ट्र की वर्धा पुलिस कालीचरण को लेकर रायपुर पहुंची थी। कालीचरण फिलहाल रायपुर जेल में ही है। उसके खिलाफ पुणे, वर्धा, अकोला में भी केस दर्ज किए गए हैं। कोर्ट में लगभग 1 से डेढ़ घंटे तक चली जिरह के बाद यह तय हुआ कि कालीचरण की न्यायिक रिमांड को बढ़ाया जाएगा। इन स्थितियों को देखते हुए अदालत ने 25 जनवरी तक कालीचरण की रिमांड को बढ़ा दिया। पुलिस की तरफ से कहा गया था कि इस मामले में छानबीन अभी जारी है और चार्जशीट जमा करने में कुछ वक्त लगेगा।

पिछले साल 26 दिसंबर को रायपुर के रावाभाटा इलाके में धर्म संसद का आयोजन किया गया था। यहां पर कालीचरण ने महात्मा गांधी के लिए अपशब्द कहे। पुलिस ने उसे पिछले महीने मध्य प्रदेश के छतरपुर से गिरफ्तार किया गया किया था। तब से कालीचरण रायपुर की जेल में ही रह रहा है। इस मामले में रायपुर के टिकरापारा थाने में कालीचरण के खिलाफ राजद्रोह का केस भी दर्ज है। महाराष्ट्र के कथित संत कालीचरण को 25 जनवरी तक रायपुर जेल में ही रहना होगा। 13 जनवरी को उसकी न्यायिक रिमांड खत्म होने वाली थी। गुरुवार को रायपुर की अदालत में जज ने उसे 25 जनवरी तक रायपुर जेल में ही रहने का आदेश सुना दिया।

Next Story