Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

100 साल तक जीने के लिए डाइट में शामिल करें ये सुपरफूड्स

आजकल बड़े और बच्चे सभी भागदौड़ भरी जिंदगी में अपनी सेहत का ध्यान नहीं रख पाते हैं।

100 साल तक जीने के लिए डाइट में शामिल करें ये सुपरफूड्स

आजकल बड़े और बच्चे सभी भागदौड़ भरी जिंदगी में अपनी सेहत का ध्यान नहीं रख पाते हैं। ऐसे में अगर हम कुछ सुपर फूड्स का सेवन करें तो इससे हम हेल्दी तो रहेंगे ही साथ ही हमारी उम्र पर भी असर पड़ता है, कुछ ऐसे ही सुपरफूड्स के बारें में आज हम आपको बता रहे हैं जिससे आपकी उम्र बढ़ सकती है...

सेब: आप सबने रोज एक सेब खाने और डॉक्टर को दूर रखने वाली कहावत तो जरूर सुनी होगी। दरअसल सेब में फाइबर और पेक्टिन जैसे गुण पाए जाते हैं जो आपको ओवर ईटिंग से बचाते हुए संतुष्टि का एहसास कराता है और स्नैक्स कम खाने के लिए प्रोत्साहित करता है।
आलू: अधिकांश लोगों में सबसे पसंदीदा आलू जहां अपने स्टॉर्च और कार्ब की वजह से बदनाम है लेकिन आज हम आपको आलू से जुड़ी एक चौंकाने वाली बात बता रहे हैं कि आलू आपका वजन घटाने के साथ-साथ त्वचा संबंधी समस्याओं के निदान में भी सहायक है क्योंकि आलू में कम कैलोरी और उच्च मात्रा में फाईबर जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं।
काली मिर्च: अगर आप अपना डाईट चॉर्ट बना रहे हैं तो उसमें काली मिर्च को जोड़ना न भूलें। क्योंकि जहां ये एक तरफ ये आपके फीके खाने में तीखापन लाती है तो वहीं इसमें 'कैप्सैकिन' होता है, जो शरीर के तापमान को बढ़ाकर 'डाईजेस्टिव सिस्टम' को इम्प्रूव करता है, जो बदले में अधिक ऊर्जा का उपयोग करता है।
एवाकाडो: एवाकाडो एक ऐसा सुपर फूड है जो आपके शरीर के फैट को जलाकर ऊर्जा में बदल देता है। इसमें प्रौटीन के अलावा उच्च मात्रा में फाईबर भी पाया जाता है जो आपको बार-बार महसूस होने वाली भूख को खत्म कर पूर्णता की फीलिंग देता है।
बेरीज: इसमें प्राकृतिक रूप से एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। जो आपके शरीर के वजन को बढ़ने से रोकता है। इसके अलावा जामुन और
ब्लूबेरी जैसे गहरे रंग के फलों में एंथोकाइनिन प्रचुर मात्रा में होते हैं। जो शरीर की शर्करा (शुगर) पर नियंत्रण रखती है।
क्विनोआ सलाद: क्विनो ने अपने चावल के मुकाबले दोगुनी प्रोटीन के साथ एक सुपरफूड के रूप में अपनी पहचान बनाई है,हालांकि यह कम कैलोरी भोजन नहीं है, यह उच्च फाइबर है और प्रोटीन सामग्री संतुष्टि को बढ़ावा देती है और आपके पेट को तेजी से भरने में मदद करती है, जिससे आप अन्य अस्वास्थ्यकर भोजन का सेवन कम करें।
दाल: हरी सब्जियों और रंग- बिरंगे फलों के साथ हमारे शरीर को दालों से मिलने वाले पौषक तत्वों की जरूरत होती है। क्योंकि दालें हमारे पाचन क्रिया को दुरूस्त रखती हैं साथ ही एक्स्ट्रा कैलोरी को प्रतिबंधित करती है। जैसे मसूर दाल में वसा के एक ग्राम से भी कम, मसूर अन्य उच्च प्रोटीन खाद्य पदार्थों के लिए एक अच्छा विकल्प बनाते हैं।
अंगूर: अंगूर को अपनी हेल्दी रूटीन में शामिल करने की मु्ख्य वजह ये है कि इसमें प्राकृतिक रूप से एक गुलाबी साइट्रस नामक यौगिक पाया जाता है जो शरीर की शुगर को कंट्रोल करता है।
Next Story
Top