logo
Breaking

क्या है कॉफी पीने का सही समय?

आप में से ज्यादातर लोग बिस्तर से उठते ही कॉफी का सेवन करते हैं, जो कि सबसे खतरनाक है।

क्या है कॉफी पीने का सही समय?

नई दिल्ली. अक्सर देखा जाता है कि कार्यस्थल पर कर्मचारी कॉफी का सेवन ज्यादा करते हैं। इसके पीछे की मानसिकता यह है कि कॉफी बिना काम की क्षमता कम हो जाती है। हालांकि इसके गुण और अवगुण को लेकर कई तरह के शोध सामने आ चुके हैं।

ये भी पढ़ें : डायबिटीज की दवा से छुड़ाई जा सकती है शराब की लत : शोध

कार्य क्षमता प्रभावित : यदि आप यह सोचकर खुश हो रहें है कि एक कप कॉफी पीने से कार्य क्षमता बढ़ जाती है, तो यह आपकी गलत धरणा है। शोधकर्ताओं की मानें तो कार्यालय में पी जाने वाली कॉफी में पता नहीं चल पाता कि किसमें कितना कैफीन है, ऐसे में आप अनजाने में ही कैफीन की ज्यादा मात्रा ले रहे होते हैं, जो आपके कार्य क्षमता के लिए हानिकारक हो सकता है।
आत्मबल में वृद्धि: उत्तरी कैरोलिना विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के अनुसार, कार्यस्थल पर आत्म नियंत्रण और इच्छाशक्ति को मजबूत बनाने के लिए कॉफी फायदेमंद हो सकता है। लेखक माइकल ईसाई के अनुसार कैफीन का सेवन आपके आत्मबल को मजबूती प्रदान करने में सहायक हो सकता है।
सहकर्मियों के साथ ले ब्रेक : मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ने एक अध्ययन में पाया है कि सहकर्मियों के साथ कॉफी ब्रेक आपके कार्य क्षमता को बढ़ा सकती है। एक दूसरे अध्ययन में पाया गया कि जब भी कर्मचारी ब्रेक के समय एक साथ कॉफी का सेवन करते हैं, उनमें एक अगल तरह की उर्जा संचारित होती है।
तनाव में कॉफी से रहें दूर : ड्यूक यूनिवर्सिटी आफ मेडिकल सेंटर के एक अध्ययन में बताया गया है कि कार्यालय में किसी बात को लेकर यदि आप तनाव में आ जाएं तो कॉफी का सेवन करने से परहेज करें। तनाव में कॉफी पीने से शरीर का रक्तचाप बढ़ जाता है, जिससे शरीर को नुकसान पहुंच सकता है।
नीचे की स्लाइड्स में पढें, क्या गलत समय पर कॉफी पी रहे हैं -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Share it
Top