Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बनाइए डिफरेंट गोल्स हैप्पी रहेगी मैरीड लाइफ

एक बेहतर जिंदगी हम तभी जी पाते हैं, जब उसे लेकर गोल्स यानी लक्ष्य तय करते हैं। हमें क्या हासिल करना है, इसके लिए प्लानिंग करते हैं। ऐसी ही प्लानिंग मैरीड लाइफ के लिए भी जरूरी है। कपल्स को भी अपने लिए कुछ गोल्स सेट करने चाहिए और मिलकर इन्हें अचीव करना चाहिए।

Lal kitab : शीघ्र विवाह कराने का अचूक टोटका, आप भी जानें
X
प्रतीकात्मक तस्वीर

आभा और अरविंद की जल्द ही शादी होने वाली है। आभा एक नामी कंपनी में एचआर टीम का हिस्सा है। वहीं अरविंद सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। दोनों ही अपने करियर को लेकर एंबिशियस हैं। दोनों ने अपने करियर को लेकर कुछ गोल्स सेट कर रखे हैं, जिन्हें आने वाले पांच सालों में अचीव करना है। दोनों का सपना अपने करियर में आगे बढ़ने का है। जिस तरह दोनों ने अपने करियर के लिए गोल्स सेट किए हैं, वैसे ही गोल्स अपनी मैरीड लाइफ के लिए भी प्लान कर लिए हैं। इसमें फैमिली प्लानिंग, फाइनेंशियल फ्रंट से जुड़े सभी पहलू शामिल किए हैं। कोरोना काल में तो लाइफ में प्लानिंग के साथ चलना और ज्यादा जरूरी हो गया है, तभी तमाम तरह की मुश्किलों से बचा जा सकता है या उनका सामना किया जा सकता है। आप भी अगर नवविवाहित हैं तो अपनी मैरीड लाइफ को लेकर गोल्स सेट कीजिए, उन्हें अचीव कीजिए। ऐसा करने पर ही आपकी मैरीड लाइफ हैप्पी बनी रहेगी।

फैमिली प्लानिंग गोल्स

दोनों कपल वर्किंग हों या वाइफ सिर्फ होममेकर हो तो भी फैमिली प्लानिंग शादी के बाद सोच-समझकर करें। अगर आप बच्चे की जिम्मेदारी के लिए तैयार नहीं हैं या आपको लगता है कि आप अभी उतने फाइनेंशिल स्ट्रॉन्ग नहीं हैं, जितना एक पूरे परिवार को चलाने के लिए जरूरी है तो फैमिली प्लानिंग को आगे कर दें। सही समय पर ही फैमिली आगे बढ़ाएं। लेकिन इस प्लानिंग को करते हुए ध्यान रखें कि आपकी लेट एज में शादी तो नहीं हुई है। अगर ऐसा है तो आगे फैमिली प्लान करने में प्रॉब्लम आ सकती है। ऐसे में डॉक्टर की सलाह लें। ऐसा करके आप फ्यूचर में फैमिली प्लानिंग से जुड़ा कोई इश्यू फेस नहीं करेंगे।

फाइनेंशियल गोल्स

फाइनेंशियल गोल्स का मतलब ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाने से नहीं है। खुद के फ्यूचर को फाइनेंशियल सिक्योर करने से है। इसमें घर खरीदना, भविष्य के लिए सही निवेश योजनाएं लेने से है। इसके लिए पति-पत्नी दोनों को मिलकर लंबी प्लानिंग करनी चाहिए। इसमें बचत करना भी शामिल होता है। ऐसा करके ही आप अपने फ्यूचर को सिक्योर कर सकते हैं।

फिटनेस-हेल्थ गोल्स

देखा जाता है कि शादी के बाद ज्यादातर पति-पत्नी अपने लुक, फिटनेस को लेकर लापरवाह हो जाते हैं। हेल्थ कॉन्शस उतने नहीं रहते, जितना शादी से पहले होते थे। इस वजह से कुछ सालों बाद उन्हें हेल्थ इश्यूज फेस करने पड़ते हैं। ऐसा न हो इसके लिए फिटनेस गोल्स बनाकर रखना चाहिए। वजन न बढ़ने देना, डाइट प्लान फॉलो करना, इस गोल का हिस्सा होने चाहिए। तभी पति-पत्नी दोनों फिट रहेंगे, हेल्दी रहेंगे। इस तरह वे अपनी लाइफ को भरपूर जी पाएंगे।

वैकेशन गोल्स भी हैं जरूरी

सिर्फ करियर, सोशल, पर्सनल लाइफ के आस-पास ही आपकी जिंदगी नहीं गुजरनी चाहिए। दुनिया को एक्सप्लोर भी आपको करना चाहिए। इसके लिए वैकेशन गोल्स तय करने चाहिए। आप आने वाले पांच सालों में किन जगहों पर जाना चाहते हैं, वहां जाने के गोल्स सेट करें, उन्हें अचीव करें। ऐसा करने से लाइफ में पॉजिटिविटी, हैप्पीनेस बनी रहती है। साथ ही आपको नए तरह के लाइफ एक्सपीरियंस मिलते हैं।

ये गोल्स भी बनाएं

- हमेशा एक-दूसरे के करियर एंबिशन को सपोर्ट करें। हमेशा आगे बढ़ने के लिए मोटिवेट करें। एक-दूसरे की एचीवमेंट्स को सेलिब्रेट करें।

- एक-दूसरे की फैमिली को भी पूरा सपोर्ट दें। उनकी अनदेखी कभी न करें। ऐसा करने पर ही परिवार से आपका रिश्ता मजबूत होगा।


Next Story