logo
Breaking

सावधान: दिनदहाड़े अटैक करता है मलेरिया का मच्छर, सुबह-शाम सबसे ज्यादा खतरा

यह मच्छर आमतौर पर सूर्योदय और सूर्यास्त के बीच के समय में काटता है।

सावधान: दिनदहाड़े अटैक करता है मलेरिया का मच्छर, सुबह-शाम सबसे ज्यादा खतरा
नई दिल्ली. मलेरिया एक घातक बीमारी है, जो ‘प्लाज्मोडियम’ परजीवी के कारण होता है। यह परजीवी संक्रमित एनोफिलिज मच्छर के काटने से फैलता है। इस कारण इसे मलेरिया का वाहक कहा जाता है। यह मच्छर आमतौर पर सूर्योदय और सूर्यास्त के बीच के समय में काटता है।
मलेरिया का फैलाव पहाड़ी या वन क्षेत्रों, विकास परियोजनाओं जैसे खनन, कृषि वानिकी, सड़क एवं बांध निर्माण जैसी परियोजनाओं में काम करने वाले क्षेत्रों में होता हैं। इसके अलावा ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में भी इसका फैलाव है।
नीचे की स्‍लाइड्स मे जानि‍ए, क्या करेें मलेरिया से बचने के लिए-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Share it
Top