Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अगर आप भी रहते हैं गैस की समस्या से परेशान तो किचन में रखीं ये चीजें हैं रामबाण

गैस की समस्या से निजात पाने के लिए कई बार हम दवाओं का सहारा ले लेते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि इस समस्या का इलाज हमारे किचन में ही है, जो मिनटों में आपकी परेशानी को हल कर सकता है। हमारे किचन में ही कई ऐसे मसाले हैं जो आपको इस समस्या से चंद मिनटों में निजात दिला सकते हैं।

Heath Tips : पेट फूलने और गैस की समस्या से हैं परेशान तो जानें क्या खाना चाहिए और क्या नहीं
X

Heath Tips : पेट फूलने और गैस की समस्या से हैं परेशान तो जानें क्या खाना चाहिए और क्या नहीं  (फाइल फोटो)

Health Tips: हम में से बहुत से लोगों को अक्सर खाने के बाद गैस्ट्रिक समस्या (Gastric Problem) होती है। पेट में गैस के कारण पेट फूलने (Stomach Bloating) लगता है और हमें काफी असहज महसूस होनें लगता है। खाने के बाद पेट में गैस होना स्वभाविक है, लेकिन अगर ये समस्या अत्याधिक हो तो एक असहनीय दर्द में बदल जाती है। पेट में गैस के कारण आपको तेज दर्द भी हो सकता है। पेट में गैस हमारी खुद की लापरवाही के कारण बनती है। गैस की समस्या ज्यादातर हेल्दी डाइट न लेने, बाहर का खाना खाने, समय पर खाना न खाने, तरल पदार्थ ज्यादा मात्रा में लेने, फास्ट फूड का सेवन करने से होती हैं।

गैस की समस्या से निजात पाने के लिए कई बार हम दवाओं का सहारा ले लेते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि इस समस्या का इलाज (Solutions for Bloating Problem) हमारे किचन में ही है, जो मिनटों में आपकी परेशानी को हल कर सकता है। हमारे किचन में ही कई ऐसे मसाले हैं जो आपको इस समस्या से चंद मिनटों में निजात दिला सकते हैं। हम आपको स्टोरी में ऐसी कुछ चीजों के बारे में बताएंगे, जिनके सेवन से आपको गैस से राहत मिलेगी...

अजवाइन

जो लोग गैस बनने से काफी परेशान रहते हैं उनके लिए अजवाइन एक रामबाण इलाज। अजवाइन का इस्तेमाल हम घर में मसाले के तौर पर करते हैं, लेकिन पेट में गैस होनें पर गुनगुने पानी के साथ इसे लेने पर ये आपके पेट की गैस को निकालने में असरदार साबित होता है। वैसे आप इसके पत्तों का सेवन भी कर सकते हैं।

जीरा

जीरा आमतौर पर भारतीय घरों के किचन में आसानी से मिल जाता है। आयुर्वेद के मुताबिक जीरा डाइजेस्टिव एंजाइम्स को बढ़ाने में मदद करता है। इसके सेवन से आप एसिडिटी, अपच और गैस जैसी पेट की कई समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

तुलसी

तुलसी एक हर्बल प्लान्ट है जो हर भारतीय घर में पाया जाता है। इस तुलसी के कई फायदें होते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि तुलसी के अर्क में एंटीअल्सर प्रॉपर्टीज होती हैं जो गैस्ट्रिक एसिड को कम करता है। तुलसी के 4-6 पत्ते चबाने से एसिडिटी के दौरान होने वाली परेशानी तुरंत दूर हो जाती है।

सौंफ

सौंफ में ऐसे कई कंपाउंड होते हैं जिनका नेचर एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीस्पास्मोडिक होता है। ये पेट में होनें वाली ज्यादातर समस्याओं गैस, हर्ट बर्न, पेट फूलना आदि से राहत दिलाते हैं। ज्यादातर लोग डाइजेशन के लिए खाने के बाद मुखवास में सौंफ का इस्तेमाल करते हैं।

सोया

सर्दी के मौसम में आने वाला ये सोया का साग पेट से जुड़ी कई समस्याओं से आपको निजात दिलाता है। हरे पत्तेदार सोया में एंटी इंफ्लामेटरी तत्व पाए जाते हैं जो आपको पेट की समस्याओं को कम करते हैं।

पुदीना

अगर आपको खाना खाने के तुरंत बाद पेट फूलने की समस्या है तो पुदीना आपके लिए काफी लाभकारी हो सकता है। पुदीना पेट की ऐंठन को शांत करने के लिए भी जाना जाता है और एसिडिटी और पेट फूलने को कम करने में मदद करता है। यह एंटीऑक्सिडेंट, फाइटोन्यूरिएंट्स और मेन्थॉल से भरपूर होता है, जो एंजाइमों को भोजन पचाने में मदद करता है।

Next Story