Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जुकाम से ऐसे कर सकते हैं अपना बचाव, इन स्टेप्स को फॉलो कर इस बीमारी से रह सकते हैं दूर

हाल ही में यूके की कार्डिफ यूनिवर्सिटी स्थित कॉमन कोल्ड सेंटर के शोधकर्ताओं ने कुछ आसान उपाय बताए हैं। इन पर अमल करके जुकाम के इन लक्षणों से काफी हद तक निजात पाई जा सकती है।

जुकाम से ऐसे कर सकते हैं अपना बचाव, इन स्टेप्स को फॉलो कर इस बीमारी से रह सकते हैं दूर
X

कुछ लोगों को जुकाम बहुत जल्दी जल्दी होता है। वहीं इस माहौल में जुकाम होने से कई लोग कोरोना संक्रमण के डर से परेशान हो जाते हैं। ऐसे में हम आपकी इस परेशानी को दूर करने के लिए कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं। जिन्हें फॉलो कर आप जुकाम से बचे रह सकते हैं। चाहे गर्मी हो या सर्दी आप को जुकाम नहीं होगा। आइये जानते हैं कौन से वो कदम, जिनको फॉलो कर रह सकते हैं जुकाम से दूर...

हाल ही में यूके की कार्डिफ यूनिवर्सिटी स्थित कॉमन कोल्ड सेंटर के शोधकर्ताओं ने कुछ आसान उपाय बताए हैं। इन पर अमल करके जुकाम के इन लक्षणों से काफी हद तक निजात पाई जा सकती है।

हाथ बार-बार धोएं : हाथों को साबुन से कम से कम 15 सेकेंड जरूर धोएं। दिन में कई बार हाथ धोते रहने से कॉमन कोल्ड के वायरस फैलने का खतरा सिमट जाता है। वायरस लगे हाथों से चेहरे पर हाथ लगाने से जुकाम का खतरा बढ़ता है क्योंकि हम अकसर नाक छूते रहते हैं और उन्हीं हाथों से आंखों को भी छू लेते हैं। आप सैनिटाइजर का प्रयोग भी कर सकते हैं।

गर्म सूप पिएं : गले की खराश, बहती नाक और चिड़चिड़ेपन से राहत दिलाने में गरम सूप काफी मददगार होता है। नीबू और शहद मिला गुनगुना पानी भी राहत देगा।

नाक को ढंकें : मास्क या स्कार्फ से अपनी नाक और मुंह को ढंकने का जतन जरूर करें।

सही दवा लें : जुकाम के लिए एंटीबायोटिक का इस्तेमाल करने से बचें। इसके बजाय डॉक्टर से कंसल्ट कर पैरासीटामोल, एस्पिरीन ले सकते हैं। साथ ही नैजल स्प्रे भी काफी कारगर साबित होते हैं।

इन चीजों को खाने में करें शामिल : विटामिन सी, अदरक और लौंग के अलावा भी कुछ चीजों का नियमित सेवन कॉमन कोल्ड और फ्लू से न सिर्फ आपकी सेहत की सुरक्षा करता है बल्कि इससे निजात भी दिलाता है।

ग्रीन टी : जर्नल ऑफ दी अमेरिकन कॉलेज ऑफ न्यूट्रीशन में प्रकाशित ताजा अध्ययन के मुताबिक ग्रीन टी में मौजूद अमीनो अम्ल, सर्दी-जुकाम से सुरक्षा देता है। अमेरिकी शोधकर्ताओं ने पाया है कि एल- थियानिन नामक यह कंपाउंड जुकाम रोकने में बेहद असरकारक होता है। 'दी जर्नल ऑफ न्यूट्रीशन' में प्रकाशित एक जर्मन स्टडी भी इस शोध के नतीजों की ही पुष्टि करती है।

लहसुन : जुकाम में लहसुन का सेवन काफी फायदा पहुंचाता है। लहसुन एक एंटीबैक्टीरियल, एंटीवायरल और एंटीफंगल फूड है। इसके सेवन से शरीर में इंफेक्शन से लड़ने वाले व्हाइट ब्लड सेल्स और एंटीबॉडीज उत्पन्न होते हैं।

ऑयली फिश : साल्मन, सार्डिन और मैकरेल जैसी तैलीय मछलियों में विटामिन डी और ओमेगा-3 फैट्स भऱपूर होते हैं। ये बैक्टीरिया और वायरस से सुरक्षा करने में सक्षम हैं। इनके साथ नीबूं का रस भी पिया जाय, तो फायदा बढ़ जाता है।

शकरकंद : बीटा कैरोटिन से भरपूर शकरकंद विटामिन ए का अच्छा स्रोत है। इसके सेवन से श्वसन प्रणाली चुस्त-दुरुस्त रहती है।

चकोतरा : एक छोटे चकोतरे में 48 मिग्रा. विटामिन सी होता है, जो व्हाइट ब्लड सेल्स का उत्पादन बढ़ाता है। चकोतरा खाने से शरीर में ग्लूटाथियोन नामक एंटीऑक्सीडेंट का उत्पादन होता है।

ये भी हैं कारगर उपाय

पर्याप्त आराम करें। नींद की कमी से जुकाम का प्रकोप बढ़ जाता है।

विटामिन सी जुकाम से सुरक्षा करता है खट्टे फल या सप्लीमेंट लें। ताजा दही खाएं इसमें प्रोबायोटिक्स का खजाना है। इससे जुकाम कंट्रोल में रहता है।

Next Story