Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ऑक्सीजन का बड़ा सिलेंडर है ये छोटा सा पौधा, जानें इसके फायदे

सोलो के फायदे से अधिकांश लोग आज तक अनजान है। लेकिन ये जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों के लिए किसी संजीवनी से कम नही हैं। सोलो एक जड़ी बूटी वाला पौधा है। इसे 'वंडर प्लांट' भी कहा जाता है। ये ऊंचाई पर जाने से ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के अलावा कई सारी बीमारियों के लिए रामबाण साबित होती है। ऐसे में आज हम आपको ऐसे में आज हम आपको सोलो क्या है, सोलो के फायदे, सोलो का उपयोग कैसे किया जाता है के बारे में बता रहे हैँ।

ऑक्सीजन का बड़ा सिलेंडर है ये छोटा सा पौधा, जानें इसके फायदे

सोलो मुख्य रुप से लद्दाख में पाई जाने वाली जड़ी बूटी है। ये छोटे आकार का एक पौधा होता है। स्थानीय लोगों के अलावा ये छोटा सा पौधा हमारी सेना के जवानों के लिए भी जीवनदान देने वाला अमृत साबित होती है। आइए जानते हैं,सोलो के फायदे, सोलो क्या है, इसका उपयोग करने के तरीको में बताया, इसलिए हम भी आपको सोलो से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आएं हैं।

सोलो क्या है / What is Solo

सोलो, लद्दाख में पाई जाने वाली एक जड़ी बूटी है। जिसका उपयोग स्थानीय लोगों के अलावा सशस्त्र बल बेहद ऊंचाई पर जाने के समय करते हैं। क्योंकि सोलो ऊंचाई पर ऑक्सीजन से होने वाली कमी को पूरा करने में मदद करती है। सोलो को रोडियोला रोसिया के नाम से जाना जाता है। इसे रामायण की संजीवनी भी माना जाता है। क्योंकि इसके उपयोग से कई सारी गंभीर बीमारियों का इलाज किया जा सकता है। सोलो नामक जड़ी बूटी के पत्तो का ही उपयोग किया जाता है।




सोलो पर रिसर्च / Research On Solo

सोलो नामक पौधे का जम्मू कश्मीर औऱ लद्दाख के स्थानीय लोगों के अलावा पौराणिक कथाओं में भी इसका उल्लेख मिलता है। लेह में मौजूद डिफेंस इंस्टीट्यूट ऑफ हाई एल्टीट्यूड रिसर्च (DIHAR) ने सोलो को वंडर प्लांट नाम दिया है और इस पर लगभग एक दशक से ज्यादा समय से शोध जारी है।

पीएम मोदी ने क्यों किया सोलो का जिक्र / Why did PM Modi Mention Solo

पीएम मोदी ने जम्मू कश्मीर और लद्दाख के टूरिज्म को बढ़ावा देने और वहां रोजगार के अवसरों में वृद्धि करने के विषय पर बताते हुए, उन्होंने सोलो जड़ी बूटी के फायदे और उसके उपयोग के तरीके के बारे में बताया, साथ ही सोलो की खेती करने से किसानों के साथ कारोबार करने वाली कंपनियों को इस जड़ी बूटी से जुड़ने के लिए कहा।

भारत के साथ रुस के लिए भी उपयोगी है सोलो / Solo is also useful for Russia with India

भारत के अलावा रूस और स्कैंडिनेवियाई देशों के लोग सदियों से सोलो का जड़ी बूटी के रुप में उपयोग करते हैं। जिसमें वो टेंशन, थकान और डिप्रेशन का इलाज सोलो जड़ी बूटी से करते हैं।




सोलो के फायदे / Benefits Of Solo Herb

1. सोलो सेना के जवानों को सियाचीन जैसे ठंडे और ऊंचाई वाले युद्ध क्षेत्र में सांस लेने में होने वाली समस्या को दूर करने में मदद करती है।

2. नियमित रुप से सोलो का सेवन करने से कम ऑक्सीजन वाले क्षेत्रों में भी शरीर का इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में कारगर साबित होती है।

3. लद्दाख के स्थानीय लोग चिंता, थकान और अवसाद के इलाज के लिए रोडियोला रोसिया यानि सोलो का स्थानीय लोग साग के रुप में उपयोग करते हैं।

4. लेह में मौजूद डिफेंस इंस्टीट्यूट ऑफ हाई एल्टीट्यूड रिसर्च (DIHAR) में वंडर प्लांट यानि सोलो में शोध में भूख बढ़ाने वाले रसायनों पाए गए हैं। जिसका नियमित सेवन करने से भूख बढ़ाने में मदद मिलती है।

5. शोध में सोलो प्लांट में लंबी उम्र करने वाले तत्व भी पाए जाते हैं। इसके अलावा रामायण में लक्ष्मण को लगे घातक तीर से जीवनदान देने वाली संजीवनी मानी जाती है। इसलिए पीएम मोदी ने सोलो के पौधे का चिकित्सा और रोजगार के क्षेत्र में भी बढ़ावा देने की बात कही है।

सोलों का उपयोग कैसे करें / How to use Solo

पूरे जम्मू कश्मीर औऱ लद्दाख में पाई जाने वाली सोलो जड़ी बूटी को स्थानीय लोग साग की सब्जी के रुप में खाना पसंद करते हैं। इस जड़ी बूटी के पत्तो का ही खाने के लिए उपयोग किया जाता है।

Share it
Top