Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Health Tips: क्या है रूमेटाइड अर्थराइटिस, दर्द से राहत के लिए करें ये योगासन

Health: रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) यानी आरए (RA), एक ऑटोइम्यून (Auto-Immune Disease) और इंफ्लेमेशन संबंधी बीमारी है। अपनी इस स्टोरी में हम आपको इसके दर्द को कम करने वाले योगासन के बारे में बताएंगे...

Health Tips: क्या है रूमेटाइड अर्थराइटिस, दर्द से राहत के लिए करें ये योगासन
X

Health: रूमेटाइड अर्थराइटिस (Rheumatoid Arthritis) यानी आरए (RA), एक ऑटोइम्यून (Auto-Immune Disease) और इंफ्लेमेशन संबंधी बीमारी है। इस बीमारी में आपका इम्यून सिस्टम (Immune System) गलती से आपके शरीर की हेल्दी सेल्स (Healthy Cells) पर अटैक करने लगता है, जिससे शरीर के प्रभावित हिस्सों में सूजन हो जाती है, इससे पीड़ित व्यक्ति को भंयकर दर्द का सामना करना पड़ता है। आरए मुख्य रूप से जोड़ों पर हमला करता है, आमतौर पर एक साथ कई जोड़ पर। इसमें आमतौर पर हाथों, कलाई और घुटनों के जोड़ प्रभावित होते हैं। रूमेटाइड अर्थराइटिस में आपके जोड़ो पर सूजन की परत चढ़ जाती है, जिससे जोड़ो के टिश्यू को नुकसान पहुंचता है। इस टिश्यू डैमेज के कारण लंबे समय तक दर्द अस्थिरता और विकृति पैदा हो सकती है। आरए पूरे शरीर के अन्य टिश्यू को भी प्रभावित करता है, इससे फेफड़ों, हृदय और आंखों की समस्याएं पैदा हो सकती है।

अपनी इस स्टोरी में हम आपको रूमेटाइड अर्थराइटिस के दर्द को कम करने वाले योगासन (Yoga Asanas) के बारे में बताएंगे...

वृक्षासन

यह मुद्रा संतुलन और समन्वय की कमी को चुनौती देती है, ये आपके शरीर के बैलेंस को बनाएं रखने में आपकी मदद करता है।

सेतु बंध सर्वांगासन

यह मुद्रा फिजिकल थैरेपी के साथ-साथ कई योग प्रथाओं में एक प्रधान है। यह पीठ और पैरों में ताकत बढ़ाने के लिए एक बहुमुखी मुद्रा है।

मृतासन या शवासन

इस आसन को करने से शरीर की थकान दूर होती है। इसका निरंतर अभ्यास करने से मन शांत, तनाव और चिंतारहित रहता है।

विपरीत करणी

यह मुद्रा बहुत फायदेमंद है क्योंकि यह आपकी सूजन को कम करने में मदद करती है और आपके लसीका तंत्र को उत्तेजित करती है। इससे आपके शरीर के नए क्षेत्रों में ब्लड सर्कुलेशन होता है। इसके साथ ही ये आपके बैलेंस को बनाए रखने में मदद करता है।

स्पाइन ट्विस्ट पोज

ट्विस्ट हमारे शरीर को ऊर्जावान बनाने और हमारे पाचन तंत्र को काम करने में मदद करते हैं। ऊर्जा एक ऐसी चीज है जिसकी हमें गठिया से कमी हो सकती है, और यह मुद्रा निश्चित रूप से ऊर्जा और स्वास्थ्य की सामान्य भावना को बढ़ावा देने में मदद करती है!

Note: यहां दी गई जानकारी सामान्य ज्ञान पर आधारित है, जिनकी पुष्टि हरिभूमि नहीं करती है। टिप्स को फॉलो करने से पहले एक बार अपने हेल्थ एक्सपर्ट की सलाह अवश्य लें।

और पढ़ें
Next Story