Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Chhath Puja 2019 : गर्भावास्था में अगर आप भी रख रही हैं छठ मैया का व्रत, तो इन चीजों का जरूर करें सेवन

Chhath Puja 2019 : छठ पूजा और छठ मैया के व्रत के नियम बेहद सख्त होते हैं, गर्भवती महिलाओं को डॉक्टर की सलाह के साथ विशेष सावधानी और एक बैलेंस्ड डाइट लेना बेहद जरूरी है। आइए जानते हैं गर्भवती महिलाओं को व्रत के दौरान क्या खाना चाहिए, क्या नहीं...

Chhath Puja 2019 : गर्भावास्था में अगर आप भी रख रही हैं छठ मैया का व्रत, तो इन चीजों का जरुर करें सेवनछठ पूजा 2019 गर्भवती महिलाओं के लिए डाइट

Chhath Puja 2019 / छठ पूजा 2019 : दिवाली के बाद आने वाला छठ पूजा का त्योहार बिहार, पू्र्वी उत्तर प्रदेश समेत अन्य राज्यों में बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता है। छठ पूजा का त्योहार 4 दिन तक मनाया जाता है, जिसमें महिला और पुरुष दोनो को ही 2 दिन तक लगातार व्रत रखना होता है। ऐसे में अगर आप गर्भवती हैं और अपने परिवार की खुशहाली के लिए व्रत रखने वाली हैं, तो आपको डॉक्टर की सलाह जरुर लेनी चाहिए। क्योंकि लगातार भूखे रहने से शिशु पर घातक असर पड़ सकता है। इसलिए व्रत के दौरान भी भूखे पेट रहने की जगह फलाहारी भोजन करना बेहतर रहेगा। आइए जानते हैं गर्भवती महिलाओं के लिए छठ पूजा के व्रत के लिए डाइट...

गर्भवती महिलाओं के लिए डाइट / Pregnant Women Diet




पानी (Water)

पानी पीना हर किसी के लिए बेहद फायदेमंद होता है। ऐसे में अगर आप गर्भवती हैं और फिर भी छठ मैया का व्रत रख रही हैं, तो दिनभर में कम से कम 4-5 लीटर पानी पीना अच्छा रहेगा। इससे आपको शारीरिक कमजोरी और थकान महसूस नहीं होगी, साथ ही बार-बार लगने वाली भूख भी आसानी से शांत होगी।




डेयरी प्रोडक्ट्स (Dairy Products)

डेयरी प्रोडक्ट्स का गर्भावास्था में सेवन करना बहुत लाभदायक होता है। इससे शिशु के विकास में तेजी आती है। उसकी हड्डियां मजबूत होती हैं और मां के शरीर को भी स्वस्थ रखने में मदद मिलती है। डेयरी प्रोडक्ट्स में दूध और छाछ लेना फायदेमंद रहेगा।




सूखे मेवे (Dry Fruits)

व्रत के दौरान अनाज खाना मना होता है, ऐसे में आप शरीर की ऊर्जा को बनाएं रखने के लिए ड्राई फ्रूट्स यानि सूखे मेवे का सेवन कर सकती हैं। ड्राई फ्रूट्स का सेवन करने से शरीर को प्रोटीन, जिंक,आयरन, मैग्नीशियम आदि शरीर के जरुरी पौषक तत्व मिल जाते हैं।




फल (Fruits)

गर्भावास्था में हमेशा डॉक्टर्स महिलाओं को फलों का सेवन करने के लिए कहती हैं, क्योंकि इससे शरीर को सभी जरुरी पौषक तत्व प्राकृतिक रुप से मिल जाते हैं। साथ ही व्रत में खाए जाने वाला फलाहारी भोजन में भी फलों अहम भूमिका निभाते हैं। ऐसे में आप भी दिन में कम से कम 2 बार ताजे फलों का सेवन जरुर करें।



जूस या हेल्दी ड्रिंक्स (Juices And Healthy Drinks)

फल की तरह फलों का रस भी गर्भवती महिलाओं के लिए सेवन करना उपयोगी होता है। इसमें आप मौसमी का जूस, अनार का जूस, नारियल पानी आदि का सेवन दिन में 2 बार जरुर करें।

Next Story
Top