logo
Breaking

इस एक चीज को खाने से पास नहीं भटकेगा कैंसर और दिल की बीमारी

हरी इलायची हर भारतीय के घर में पाई जाती है। इसे मसाले में प्रयोग करने के साथ-साथ माउथ फ्रेशनर में प्रयोग किय़ा जाता है। इलायची को हम तरह-तरह से खाते हैं लेकिन कभी हम ये नहीं जानते है कि इलायची हमारे स्वास्थ्य के लिए कितनी फायदेंमंद होती है

इस एक चीज को खाने से पास नहीं भटकेगा कैंसर और दिल की बीमारी

आज कल हर घर में हरी इलायची का उपयोग होता है, कभी चाय में तो कभी सब्जी मसालों में, लेकिन बहुत कम लोग जानते होंगे हरी इलायची के फायदे के बारे में। इलायची में बहुत सारे पोषक तत्व- आयरन, विटामिन-सी, नियासिन, रिबोफ्लेविन, पोटेशियम, मैग्नीशियम, कैल्शियम पाए जाते हैं जो बहुत सारी बीमारियों को दूर करने में सहायक होते हैं। इलायची को हम तरह-तरह से खाते हैं लेकिन कभी हम ये नहीं जानते है कि इलायची हमारे स्वास्थ्य के लिए कितनी फायदेंमंद होती है और किन बीमारियों में असरकारक साबित होती है। आज हम आपको बता रहे हैं हरी इलायची के फायदे के बारे में...

हरी इलायची के फायदे

हरी इलायची के फायदे 1. ब्लडप्रेशर कंट्रोल- हरि इलायची में पोटेशियम फाइबर होता है जो ब्लडप्रेशर को कट्रोल कर देता है इसलिए जो लोग ब्लडप्रेशर से लगातार पीड़ित रहते हैं उन्हें इलायची का नियमित सेवन करना चाहिए।

हरी इलायची के फायदे 2. दिल की रक्षा- इलायती में मौजूद खनिज तत्व दिल की रक्षा करने में असरकारक होते हैं। इलायची खाने से पल्स रेट सही रहता है और खून के संचालन में अहम भूमिका निभाती है।

हरी इलायची के फायदे 3. किडनी की करे रक्षा- आपके शरीर में बहुत सारे खाने के तत्व इक्कठा हो जाते है जो किडनी को खराब कर देते हैं इलायची में मौजूद पोटेशियम इन तत्वों को बाहर निकाल देता है। जिससे आपकी किडनी सुरक्षित रहती है।

हरी इलायची के फायदे 4. हड्डियां करें मजबूत- इलायची में मौजूद पोषक तत्व आयरन, मैग्निशियम, कैल्शियम आपकी हड्डियों को मजबूती प्रदान करते हैं। अगर आप इलायची का नियमित सेवन करें तो आप कुछ ही समय में हड्डियों में मजबूरी का असर महसूस करेगें।

हरी इलायची के फायदे 5. कैंसर से मुक्ति- इलायची में विटामिन-C पाया जाता है, विटामिन-C एक बेहतरीन एंटी ऑक्सीडेंट है जो कैंसर और अन्य बीमारियां पैदा करने वाली फ्री रेडिकल्स से बचाता है। इसके अलावा यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर कैंसर से लड़ने में भी मददगार साबित होता है। वहीं कोशिकाओं और डीएनए में होने वाले उस परिवर्तन से भी बचाव करता है तो कैंसर पैदा कर सकता है।

Share it
Top