Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गोंद खाने के फायदे : सर्दियों में गोंद खाने से होते हैं ये फायदे, कई बीमारियों को करता है दूर

गोंद खाने के फायदे : गोंद प्रकृति की अनमोल देन है। यह पोषक तत्वों से भरा होता है। इसका सेवन करने से शरीर की कई बीमारियां दूर हो जाती है। गर्भवतियों और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए यह बहुत अच्छा पोषक तत्व है।

गोंद खाने के फायदे: सर्दियों में गोंद खाने से होते हैं ये फायदे, कई बीमारियों को करता है दूर
X
गोंद खाने के फायदे(फाइल फोटो)

गोंद खाने के फायदे : सर्दियों के आते ही लोगों को खानपान भी बदल जाता है। आपने अक्सर लोगों को कहते हुए सुना होगा कि सर्दियों में गर्म तासीर वाली चीजें खाने चाहिए। गर्म तासीर वाली चीजें खाने से आप कई मौसमी बीमारियों से भी दूर रहते हैं। यही कारण है कि खाने में सर्दियों में लहसुन, अदरक और काली मिर्च का इस्तेमाल ज्यादा किया जाता है। आपने अक्सर देखा होगा कि सर्दियां आते ही लोगों के घरों में गोंद के लड्डू बनाए जाते हैं। लोग सर्दियों में घी में गोंद को भूनकर भी खाते हैं जिससे शरीर को एनर्जी मिलने के साथ हड्डियों का दर्द दूर रहें। गोंद कई बीमारियों के लिए काफी फायदेमंद होता है। चलिए आज हम आपको गोंद से होने वाले फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं।

-गोंद हड्डियों को मजबूत करने में मदद करता है। मांसपेशियों को भी काफी मजबूत बनाता है।

-यह डिप्रेशन से बचाव करने में मदद करता है।

- गोंद खाने से स्टेमिना और इम्यूनिटी बढ़ता है। इस वजह से सर्दियों में गोंद के लड्डू खाए जाते हैं।

- गर्भवती महिलाओं के लिए इसका सेवन काफी लाभकारी होता है। इस समय यह रीढ़ की हड्डी की मजबूती के लिए जरूरी है और मां का दूध बढ़ाने में मदद करता है।

-गोंद त्वचा के लिए भी बेहद फायदेमंद है। गोंद स्किन केयर एजेंट के तौर पर काम करता है और चेहरे को अंदरुनी नमी भी प्रदान करता है।

- जो लोग फेफड़ों से संबंधित समस्याओं से गुजर रहे हैं। वो गोंद का सेवन रोजाना करें उन्हें जल्द आराम मिलेगा।

- खांसी और गले की खराश से छुटकारा दिलवाने में मदद करता है।

-डेली भुनी हुई गोंद खाने से हार्ट अटैक के खतरे कम होते हैं। हृदय से जुड़ी कई बीमारियों के लिए भी यह काफी लाभकारी है।

-गोंद के लड्डू या पंजीरी का सेवन करने से शरीर में खून की कमी को पूरी होती है।

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story