logo
Breaking

8 टिप्सः लंच ब्रेक के बाद ऐसे करें अपना मूड फ्रेश

एक व्यस्त दिन के बीच में खुद को रिफ्रेश करने के लिए लंच ब्रेक सही मौका है।

8 टिप्सः लंच ब्रेक के बाद ऐसे करें अपना मूड फ्रेश
नई दिल्ली. अगर आप वर्किंग प्रोफेशनल हैं तो इस बात की संभावना है कि आप तनाव के साथ काम कर रहे हैं। 2015 के एक सर्वे के अनुसार, आधे से ज्यादा वर्किंग प्रोफेशनल अपने जॉब को लेकर निराश हैं। इस निराशा से मुकाबला करने के लिए एक छोटा तरीका यह हो सकता है कि हम दिए गए ब्रेक का बेहतर इस्तेमाल करें। एक व्यस्त दिन के बीच में खुद को रिफ्रेश करने के लिए लंच ब्रेक सही मौका है। हम आपको लंच ब्रेक के दौरान खुद को रिफ्रेश करने के आठ तरीके बताने जा रहे हैं।

1. ऑफिस से बाहर निकलें
यह सुनने में थोड़ा अजीब लग सकता है। लेकिन वास्तव में आजकल के लंच ब्रेक पहले जैसे नहीं रहे। 2012 के एक सर्वे के अनुसार, केवल 19 फीसदी लोग ही नियमित रूप से डेस्क से दूर लंच करते हैं, जबकि 28 फीसदी लोग कभी-कभी लंच ब्रेक लेते हैं। जबकि कुछ कर्मचारी ज्यादा प्रोडक्टिव बनने के इरादे से लंच ब्रेक के दौरान भी काम करते रहते हैं, जिसका उनपर उल्टा असर पड़ता है। मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि माहौल में बदलाव रचनात्मक सोच के लिए फायदेमंद होता है। ऑफिस से सिर्फ 5 से 10 मिनट बाहर निकलकर आप अपने दिमाग को रिफ्रेश कर सकते हैं।

2. किताब पढ़ें

अगर आप अपने दिमाग को काम से थोड़ी देर के लिए ब्रेक देना चाहते हैं, तो एक अच्छी सी किताब पढ़िए। खुद को काम के अलावा किसी और चीज में व्यस्त रखना एक बेहतरीन तरीका है वर्क मोड के तनाव से बाहर आने का। आप फ्री टाइम में एक अच्छी सी किताब पढ़कर कुछ नया सीख सकते हैं।

3. ध्यान लगाएं
अगर आप अपना वर्क परफॉरमेंस सुधारना चाहते हैं, तो लंच ब्रेक में से समय निकालकर ध्यान लगाएं। 2012 में वाशिंगटन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने एक स्टडी में पाया कि नियमित ध्यान लगाने से याददाश्त, काम में ध्यान और एनर्जी लेवल बढ़ता है। अगर आप 10 से 20 मिनट टाइम निकालकर ध्यान लगाते हैं, तो लंच ब्रेक के बाद ऑफिस लौटने पर बेहतर परफॉर्म करने के लिए तैयार होंगे।

4. डिजिटल वर्ल्ड से बनाए थोड़ी दूरी
आजकल ऑफिस में कम्युनिकेशन का ज्यादातर काम ऑनलाइन होता है। जॉब करने वाले आदमी के लिए, ऑफिस के बाद भी इससे दूर रहना एक बड़ी चुनौती है। आप लंच ब्रेक के दौरान खुद को थाड़ी देर के लिए ही सही लेकिन डिजिटल दुनिया से दूर रखें। थाड़ी देर के लिए कम्युनिकेशन उपकरणों से दूरी आपको मानिसक तौर पर काफी राहत देगा।

5. एक्सरसाइज करें

एक्सरसाइज के लिए टाइम निकालना (चाहे वो सुबह के वक्त हो या फिर ऑफिस से लौटने के बाद जब आप थके हुए रहते हो) मुश्किल हो सकता है। लेकिन अगर आपको लगता है कि एक्सरसाइज करने के लिए आपके पास टाइम नहीं है, तो आप लंच ब्रेक में से थोड़ा टाइम निकालकर एक्सरसाइज कर सकते हैं। एक्सरसाइज करने के बाद आप रिफ्रेश फील करेंगे। इसके अलावा एक्सरसाइज करने से आपका एनर्जी लेवल बढ़ेगा और दिमाग अच्छी तरह से काम करेगा।

6. एक छोटी सी नींद

अक्सर खाना खाने के बच्चों को दोपहर में सुला दिया जाता है और हम ऑफिस में लंच के बाद फिर काम में लग जाते हैं, जिसका नकारात्मक असर हमारे कार्यशैली पर भी दिखाई देता है। तो ये बिल्कुल न समझे कि लंच के बाद सोना सिर्फ बच्चों के लिए जरूरी है बल्कि हमारे लिए भी उतना ही जरूरी है। यह रिलैक्स करने का एक बेहतर तरीका है और एक छोटी नींद लेने के बाद जब आप वापस काम पर लौटते हैं तो ज्यादा फोकस्ड रहते हैं। नासा ने एक रिसर्च में पाया कि जो पायलट 25 मिनट झपकी लेते हैं वो 35 फीसदी ज्यादा अलर्ट रहते हैं। तो अगर आप घर पर काम करते हैं या ऑफिस के करीब रहते हैं तो इस मौके का फायदा उठाएं।

7. किसी अपने से बात करें
अकेले लंच ब्रेक बिताने के बजाय आप किसी अपने से बात कर के बिता सकते हैं। मम्मी-पापा, दादा-दादी या परिवार के किसी अन्य सदस्य को या दूर रहने वाले किसी फ्रेंड को कॉल कर के बात करें। ये कुछ ऐसा है जिसे हम सब जानते हैं और हमें ये अक्सर करना चाहिए। आप देखकर हैरान रह जाएंगे कि सिर्फ 10 मिनट की बातचीत का आपके मूड पर कितना पॉजीटिव इम्पैक्ट पड़ता है।

8. प्रकृति के साथ वक्त बिताएं
सुबह से लेकर शाम तक एक ही ऑफिस में काम करते करते हम प्रकृति से दूर होते जा रहे हैं। अगर आप सुबह के समय किसी पार्क या गार्डन में नहीं घूम पाते हैं तो लंच ब्रेक में किसी पार्क या गार्डन में घूम कर खुद को प्रकृति के करीब लेकर जाएं। ऐसी जगह पर वक्त बिताना काफी फायदेमंद होगा। पिछले साल प्रकाशित एक अध्ययन से पता चला है कि प्रकृति के साथ वक्त बिताने से नकारात्मक विचारों में कमी आती है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top