Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जानें क्या है कोरोना के नए वेरिएंट Omicron के लक्षण, कैसे किया जा सकता है बचाव

कोरोना (Coronavirus) के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन (Omicron) ने दस्तक दे दी है, इसका पहला मामला साउथ अफ्रीका (southern Africa) में मिला है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (World Health Organization) ने इस पर चिंता जताई है और इसे 'वेरिएंट ऑफ कंर्सन' ( Variant of Concern) घोषित कर दिया है।

जानें क्या है कोरोना के नए वेरिएंट Omicron के लक्षण, कैसे किया जा सकता है बचाव
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

कोरोना (Coronavirus) के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन (Omicron) ने दस्तक दे दी है, इसका पहला मामला साउथ अफ्रीका (southern Africa) में मिला है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन (World Health Organization) ने इस पर चिंता जताई है और इसे 'वेरिएंट ऑफ कंर्सन' ( Variant of Concern) घोषित कर दिया है। आइए जानते हैं कि इस वेरिएंट के लक्षण क्या है और आप इससे बचने के लिए क्या उपाय कर सकते हैं।

Omicron variant के लक्षण (Symptoms of omicron)

साउथ अफ्रीका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कम्युनिकेबल डिजीज (National Institute for Communicable Diseases) के मुताबिक, कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन का अभी कोई नहीं लक्षण दिखाई नहीं दिया है। एनआईसीडी ने यह भी कहा कि डेल्टा जैसे अन्य संक्रामक रूपों के साथ, कोरोनवायरस के ओमाइक्रोन वेरिएंट से संक्रमित लोगों में से कुछ मरीज Asymptomatic भी हो सकते हैं। ऐसे में कहा जा सकता है कि ओमीक्रॉन के लक्षण कोविड के जैसे हो हो सकते है, जुकाम, खांसी, बुखार, स्वाद न आना, गले में दर्द, सिरदर्द, सांस लेने में समस्या, सीने में दर्द की समस्या हो सकती हैं। हालांकि ओमीक्रॉन के लक्षणों की अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

काफी खतरनाक साबित हो सकता है ओमीक्रॉन

कहा जा रहा है कि ये वेरिएंट काफी खतरनाक साबित हो सकता है, खबरों की मानें तो जिन लोगों ने वैक्सीन या बूस्टर डोज भी ली हुई है, वो लोग भी इससे संक्रमित हो चुके हैं। हालांकि वैक्सीन निर्माता कंपनियों ने रिसर्च शुरू कर दी है कि कोविड-19 के नये वैरिएंट ओमीक्रॉन के खिलाफ लड़ने में उनकी वैक्सीन असरदार है या नहीं।

कैसे किया जा सकता है बचाव

दुनिया भर में ओमिक्रॉन पर अध्ययन किए जा रहे हैं ताकि इसकी प्रकृति को समझा जा सकें। खबरों के मुताबिक, डब्ल्यूएचओ की प्रमुख वैज्ञानिक डॉ सौम्या स्वामीनाथन ने कहा है कि मास्क ही इस वेरिएंट से लोगों को बचा सकता है। इसलिए सभी लोगों को कोरोना के सभी नियमों का पालन करना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वैक्सीन हमें तभी प्रोटेक्ट कर सकती हैं, जब हम सभी लोग वैक्सीन लगवा चुके हों।


Next Story