Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Lauki Juice : लौकी के जूस का सेवन करने से पहले इस बात का रखें ध्यान, सिर्फ एक गलती पहुंचा सकती है अस्पताल

राइटर और फिल्म मेकर ताहिरा कश्यप (Tahira Kashyap) ने कहा कि लौकी (Bitter Bottle Gourd) की विषाक्तता (Toxicity) से पीड़ित होने के बाद उन्हें दो दिनों के लिए आईसीयू में भर्ती कराया गया था।

Lauki Juice : लौकी के जूस का सेवन करने से पहले इस बात का रखें ध्यान, सिर्फ एक गलती पहुंचा सकती है अस्पताल
X

राइटर (Writer) और फिल्म मेकर (Filmmaker) ताहिरा कश्यप (Tahira Kashyap) को लौकी का जूस पीने (Lauki juice) की वजह से दो दिन तक आईसीयू (ICU) में भर्ती रहना पड़ा। फिलहाल, वह ठीक हैं और इसकी जानकारी उन्होंने खुद इंस्टाग्राम रील में दी है। फिल्म मेकर (Film Maker) ने कहा कि लौकी, आंवला और हल्दी का स्वाद कड़वा होने के बाद उन्हें लौकी (Gourd) की टॉक्सिसिटी (Toxicity) का सामना करना पड़ा। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती होना पड़ा।

फिल्म मेकर (Filmmaker) ताहिरा कश्यप (Tahira Kashyap) ने अपनी इंस्टाग्राम अकाउंट पर वीडियो शेयर कर लोगों को बताया है कि अगर आपको लौकी का जूस का सेवन करते हैं और उसका स्वाद कड़वा होता है तो उसे न पीएं। अगर आप कड़वे लौकी के जूस का सेवन करते हैं तो यह आपके लिए नुकसानदायक होता है।

पोषक तत्वों का एक पावरहाउस माना जाता है लौकी

भारत में लौकी (Bottle gourd) को घिया या दूधी के नाम से भी जाना जाता है। इसे पोषक तत्वों का एक 'पावरहाउस' माना जाता है। घिया के जूस से डायबिटीज (Diabetes), हाई ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) और लीवर से जुड़ी (Liver Disease) बीमारियों को कंट्रोल करने में मदद करता है। इसके साथ लौकी के जूस (Lauki Juice) का नियमित रूप से सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल और वजन भी घट जाता है। हालांकि, पिछले कुछ वर्षों में लौकी के जूस के सेवन से टॉक्सिसिटी (Toxicity) की खबरें आई हैं, जिससे गंभीर उल्टी और ऊपरी जठरांत्र (Upper Gastrointestinal) में ब्लीडिंग होती है।

ऐसे पता करें लौकी खाने के लायक है या नहीं?

लौकी में टेट्रासाइक्लिक ट्राइटरपेनॉयड जैसे यौगिक होते हैं, जिन्हें कुकुर्बिटासिन कहा जाता है। जो प्रकृति में जहरीले होते हैं। इसलिए लौकी को पकाने या सेवन करने से पहले स्वाद लेने की सलाह दी जाती है।

लौकी टॉक्सिसिटी (Toxicity) के लक्षण

-पेट में दर्द

-मतली

-उल्टी

-दस्त

-खून की उल्टी

-हेमटोचेजिया

-सदमे और मौत



Next Story