Breaking News
मध्य प्रदेश: त्रिवेंद्रम राजधानी एक्सप्रेस से टकराया ट्रक, ड्राइवर की मौके पर दर्दनाक मौत- दो कोच पटरी से उतरेशर्मनाक! दो सगे भाईयों ने नाबालिग बहन को बनाया हवस का शिकार, 4 साल तक किया बलात्कारजम्मू-कश्मीर: पुलवामा में तहरीक-उल-मुजाहिदीन का आतंकी शौकत भट मारा गयाखुशखबरी : तेल कंपनियों ने घटाए दाम, पेट्रोल 21 पैसे और डीजल 11 पैसे हुआ सस्तानवरात्रि 2018 : आज देशभर में मनाई जा रही रामनवमी, मंदिरों में लगी भक्तों की भीड़केरल: कड़ी सुरक्षा के बीच खुले सबरीमाला मंदिर के कपाट, 10: 30 बजे तक होंगे दर्शन#MeToo: केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर ने दिया इस्तीफाजम्मू-कश्मीर: श्रीनगर में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में 3 आतंकी ढेर, एक पुलिसकर्मी शहीद
Top

रोने के होते हैं 4 गजब के फायदे, मर्दों को स्त्रियों से सीखना चाहिए

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 23 2017 5:11PM IST
रोने के होते हैं 4 गजब के फायदे, मर्दों को स्त्रियों से सीखना चाहिए

छोटी-छोटी बात पर रोने से लोग समझते हैं कि रोने वाला व्यक्ति दिल का कमजोर है। सबके सामने रोने वाले व्यक्ति को भी लोग कमजोर ही मानते हैं।

ऐसा नहीं है रोने का कमजोर व्यक्ति से कोई लेना देना नहीं है। बल्कि रोने के अपने अलग फायदे हैं। जो व्यक्ति जितना ज्यादा रोता है, उसे उसके उतने ही फायदे मिलते हैं। इतना ही नहीं रोने से कई गंभीर बीमारियों के होने का खतरा भी कम हो जाता है।

यह भी पढ़ें: ये हैं वो कारण, जिनमें प्रेग्नेंसी के चांसेस ज्यादा होते हैं

आंसू को लेकर कई रिसर्च की गई है। फुटबाल प्लेयर याले की टीम की तरफ से एक स्टडी की गई, जिसमें पाया गया कि आंसू सिर्फ गम के ही नहीं खुशी के भी होते हैं। जो लोग खुशखबरी सुनकर रोने लगते हैं, वह तीव्र भावनाओं के होते हैं।

पीएचडी होल्डर डॉ, रॉबर्ट के मुताबिक हंसना और रोना दोनों भावुक स्थिति का परिणाम है। ये दोनों एक जैसी प्रतिक्रियाएं ही हैं।

यह भी पढ़ें: तो ये हैं वो कारण, जिनकी वजह से पैदा होते हैं जुड़वा बच्चे

रोने से ये होते हैं फायदे

  • अगर दिमाग में कोई टेंशन है और आप रो नहीं पाते हैं, तो आपके दिमाग में निगेटिविटी आती है। रोने से टेंशन रिलीज होता है।
  • टेंशन में न रोने की वजह से दिल की बीमारी, डायबीटीज, हायपर टेंशन जैसी बीमारी होने का खतरा रहता है।
  • रोने से मन का डर खत्म हो जाता है कि लोग क्या सोचेंगे। दूसरों के सामने रोना कोई बुरी बात नहीं है।
  • रोने से यह पता चलता है कि आपको दूसरों की भावनाओं की कद्र है। इसे इमोशनल इंटेलिजेंस या इमोशनल कोशेंट कहते हैं।

यह भी पढ़ें: ब्रेस्ट कैंसर कभी नहीं होगा, अगर महिलाएं ये 4 परहेज कर लें

महिलाएं ज्यादा रोती हैं

रिसर्च में यह पाया गया कि पुरुषों की तुलना में महिलाएं ज्यादा रोती हैं। एक महीने में महिलाएं करीब 5.3 बार रोती हैं, तो वहीं पुरुष 1.4 बार ही रोते हैं।

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
benefits of weeping crying tears

-Tags:#Research#Weeping

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo