Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रोने के होते हैं 4 गजब के फायदे, मर्दों को स्त्रियों से सीखना चाहिए

रोने के अपने अलग फायदे हैं जो व्यक्ति जितना ज्यादा रोता है, उसे उतना फायदा होता है।

रोने के होते हैं 4 गजब के फायदे, मर्दों को स्त्रियों से सीखना चाहिए

छोटी-छोटी बात पर रोने से लोग समझते हैं कि रोने वाला व्यक्ति दिल का कमजोर है। सबके सामने रोने वाले व्यक्ति को भी लोग कमजोर ही मानते हैं।

ऐसा नहीं है रोने का कमजोर व्यक्ति से कोई लेना देना नहीं है। बल्कि रोने के अपने अलग फायदे हैं। जो व्यक्ति जितना ज्यादा रोता है, उसे उसके उतने ही फायदे मिलते हैं। इतना ही नहीं रोने से कई गंभीर बीमारियों के होने का खतरा भी कम हो जाता है।

यह भी पढ़ें: ये हैं वो कारण, जिनमें प्रेग्नेंसी के चांसेस ज्यादा होते हैं

आंसू को लेकर कई रिसर्च की गई है। फुटबाल प्लेयर याले की टीम की तरफ से एक स्टडी की गई, जिसमें पाया गया कि आंसू सिर्फ गम के ही नहीं खुशी के भी होते हैं। जो लोग खुशखबरी सुनकर रोने लगते हैं, वह तीव्र भावनाओं के होते हैं।

पीएचडी होल्डर डॉ, रॉबर्ट के मुताबिक हंसना और रोना दोनों भावुक स्थिति का परिणाम है। ये दोनों एक जैसी प्रतिक्रियाएं ही हैं।

यह भी पढ़ें: तो ये हैं वो कारण, जिनकी वजह से पैदा होते हैं जुड़वा बच्चे

रोने से ये होते हैं फायदे

  • अगर दिमाग में कोई टेंशन है और आप रो नहीं पाते हैं, तो आपके दिमाग में निगेटिविटी आती है। रोने से टेंशन रिलीज होता है।
  • टेंशन में न रोने की वजह से दिल की बीमारी, डायबीटीज, हायपर टेंशन जैसी बीमारी होने का खतरा रहता है।
  • रोने से मन का डर खत्म हो जाता है कि लोग क्या सोचेंगे। दूसरों के सामने रोना कोई बुरी बात नहीं है।
  • रोने से यह पता चलता है कि आपको दूसरों की भावनाओं की कद्र है। इसे इमोशनल इंटेलिजेंस या इमोशनल कोशेंट कहते हैं।

यह भी पढ़ें: ब्रेस्ट कैंसर कभी नहीं होगा, अगर महिलाएं ये 4 परहेज कर लें

महिलाएं ज्यादा रोती हैं

रिसर्च में यह पाया गया कि पुरुषों की तुलना में महिलाएं ज्यादा रोती हैं। एक महीने में महिलाएं करीब 5.3 बार रोती हैं, तो वहीं पुरुष 1.4 बार ही रोते हैं।

Next Story
Top