Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जानिए तेज पत्ते की तेजी, हकलेपन को खत्म करने में है माहिर

तेजपात के पानी के इस्तेमाल से सिर में जुएं नहीं होती हैं

जानिए तेज पत्ते की तेजी, हकलेपन को खत्म करने में है माहिर
नई दिल्ली. क्या कभी आपने तेज पात यानि तेज पत्ते का नाम सुना है यदि याद नहीं आ रहा तो हम आपको याद दिला देते है। दरअसल हम बात कर रहे है सब्जी में इस्तेमाल होने वाले उस तेजपात की जिससे सब्जी का रंग और स्वाद दोनों ही बदल जाता है।
तेजपात खाने का स्वाद और महक दोनों को बढ़ाता है। क्या आप जानते हैं तेजपात के सेवन से कई तरह की बीमारियां ठीक हो सकती हैं। आयुर्वेद में तेजपात के उन रहस्यों को आपको बताया जाएगा जिससे आप आरोग्य और लंबी उम्र बनायेगा।
इतना ही नहीं आगे आप इसके और भी फायदे जानकर हैरान रह जाएंगे। उनी, रेशमी और सूती कपड़ों को कीड़ों से बचाने के लिए तेजपातों को कपड़ों के बीच में रख दें। जिन लोगों के पैर में बदबू की समस्या होती है वे तेजपात के चूर्ण को पैर के तलवों पर मलें और फिर जुराबें पहनें।
बीमारी में कारगर
चाय-पत्ती की जगह तेजपात के चूर्ण की चाय पीने से सर्दी-जुकाम, छींकें आना ,नाक बहना,जलन सिरदर्द आदि में शीघ्र लाभ मिलता है। इतना ही नहीं जिन लोगों को हकलाने की आदत हो वे तेजपात के पत्तों को रोज चूसें। इससे हकलाने की समस्या ठीक होती है।तेजपात के पत्तों का बारीक चूर्ण सुबह-शाम दांतों पर मलने से दांतों पर चमक आ जाती है।
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, पूरी खबर -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top