Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

''बाहुबली'' ने बॉलीवुड का बाजार फीका किया, अभिनेत्रियां साउथ सिनेमा में काम करने को हैं इच्छुकः कियारा आडवाणी

चार साल पहले कियारा आडवाणी ने फिल्म ‘फगली’ से अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत की थी। लेकिन यह फिल्म फ्लॉप साबित हुई। इसके बाद उन्होंने क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी की बायोपिक ‘एमएस धोनी-द अनटोल्ड स्टोरी’ में साक्षी धोनी का किरदार निभाया।

चार साल पहले कियारा आडवाणी ने फिल्म ‘फगली’ से अपने बॉलीवुड करियर की शुरुआत की थी। लेकिन यह फिल्म फ्लॉप साबित हुई। इसके बाद उन्होंने क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी की बायोपिक ‘एमएस धोनी-द अनटोल्ड स्टोरी’ में साक्षी धोनी (महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी) का किरदार निभाया।

इसे भी पढ़ेः स्वरा भास्कर के बाद अब नेहा धूपिया और कायरा आडवाणी ने 'लस्ट स्टोरीज' में किया मास्टरबेशन सीन

इस फिल्म से कियारा लाइमलाइट में आईं। लेकिन उनकी अगली फिल्म ‘मशीन’ भी फ्लॉप हो गई। इस फिल्म के फ्लॉप होने के बाद कियारा ने साउथ की तरफ रुख कर लिया, वहां के पॉपुलर एक्टर महेश बाबू के साथ एक फिल्म में नजर आईं। बहरहाल, अब उनके पास कुछ प्रोजेक्ट्स हैं।

आपका एक्टिंग में आना कैसे हुआ?

एक्टिंग मेरा पैशन है। करियर के तौर पर एक्टिंग के अलावा कुछ और सोचा भी नहीं था। मैं लकी थी कि मम्मी-पापा का सपोर्ट मिला और मेरा एक्ट्रेस बनने का सपना पूरा हुआ।

कई लोगों को लगता है एक्टर बनने का मतलब है कि सपनों की दुनिया पा लेना, खूब सारा पैसा, शूटिंग के लिए दुनिया भर में घुमना-फिरना और डिजाइनर कॉस्ट्यूम पहनना। लेकिन ऐसा नहीं है।

एक्टर बनने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है, बहुत हार्डवर्क, डेडिकेशन की जरूरत होती है। हर दिन इंडस्ट्री में टफ कॉम्पिटिशन फेस करना पड़ता है। मेरी भी एक्टिंग की जर्नी अभी शुरू हुई है, अभी मुझे खुद को बहुत तैयार करना है।

आपकी पहली फिल्म ‘फगली’ असफल रही, दूसरी फिल्म ‘एमएस धोनी-द अनटोल्ड स्टोरी’ सफल थी। इन दोनों फिल्मों से क्या सीखा?

फिल्मों की असफलता से पता चलता है कि अभी हमें बहुत इंप्रूव करना है। जहां तक सफलता की बात है, तो उससे आगे बढ़ने का मोटिवेशन मिलता है। फिल्म ‘एमएस धोनी : द अनटोल्ड स्टोरी’ सफल रही, उसकी शूटिंग के दौरान मैंने बहुत कुछ सीखा।

डायरेक्टर नीरज पांडे बहुत ज्यादा होमवर्क खुद करते हैं और अपने एक्टर्स से भी बहुत होमवर्क कराते हैं। इसके बाद मैंने जितनी फिल्में की, उनमें इस बात को इंपॉर्टेंस दी, जिससे अपने किरदार अच्छे से निभा पाई।

नेटफ्लिक्स पर ‘लस्ट स्टोरीज’ सीरीज में एक स्टोरी को करण जौहर ने डायरेक्ट किया था। इसमें आपने एक्ट किया है, सब्जेक्ट काफी बोल्ड था। इसके बारे में क्या कहेंगी?

करण बहुत सुलझे हुए डायरेक्टर हैं। ‘लस्ट स्टोरीज’ में चार अलग-अलग शॉर्ट स्टोरीज हैं, जो नेटफ्लिक्स के लिए बनाई गई हैं। सभी कहानियां बोल्ड हैं और महिलाओं की जिंदगी पर बेस्ड हैं।

मैंने भी एक शॉर्ट स्टोरी में एक्टिंग की है। यह मेरे लिए बड़ी बात थी कि करण सर ने मुझे इसमें कास्ट किया। मैं मानती हूं कि कहानी और किरदार बोल्ड थे, लेकिन इनमें कुछ भी गलत नहीं था।

आपने बॉलीवुड के अलावा साउथ की फिल्में भी की हैं, साउथ का रुख करने की कोई खास वजह रही?

मैंने महेश बाबू के अपोजिट पहली साउथ इंडियन फिल्म की थी। मुझसे उनकी वाइफ और एक्ट्रेस नम्रता शिरोड़कर ने कॉन्टेक्ट किया था और यह फिल्म ऑफर की। मैंने भी मना नहीं किया। महेश बाबू साउथ में बड़ा नाम हैं।

जब उनके साथ मेरी फिल्म ‘भारत अने नेनु’ रिलीज हुई तो सुपरहिट रही। इसने चार दिन में ही 100 करोड़ का बिजनेस किया था। इस समय मैं साउथ की एक और फिल्म रामचरण तेजा के साथ कर रही हूं।

हम सभी जानते हैं कि जब से साउथ इंडियन फिल्म ‘बाहुबली’ सुपरहिट हुई, उसके बाद से वहां की फिल्मों का मार्केट बड़ा हो गया है। अब तो कोई भी बॉलीवुड एक्ट्रेस वहां काम करने से इंकार नहीं करती है तो मैं क्यों करूंगी।

आप माधुरी दीक्षित और आलिया भट्ट स्टारर फिल्म ‘कलंक’ में भी हैं, इसमें आपका क्या रोल है?

फिल्म ‘कलंक’ में माधुरी दीक्षित जी ने डांस टीचर का रोल किया है। मैं और आलिया भट्ट उनकी स्टूडेंट के रोल में हैं। अभी ‘कलंक’ की शूटिंग शुरू नहीं हुई है। मैं इस फिल्म को लेकर बहुत एक्साइटेड हूं।

इसमें कई दिग्गज कलाकार हैं, उनके साथ काम करना मेरे लिए बहुत बड़ी बात है। इसको अभिषेक वर्मन डायरेक्ट कर रहे हैं। करण जौहर इसके प्रोड्यूसर हैं, उन्होंने ही मेरी कास्टिंग फिल्म में की है।

सुना है कि आप फिल्म ‘हाउसफुल-4’ करने वाली हैं?

मैं ‘हाउसफुल’ सीरीज की फिल्म करना जरूर चाहती थी लेकिन अभी अपनी डेट्स साउथ इंडियन फिल्मों को दे चुकी हूं। अगर कभी फ्यूचर में मौका मिलेगा तो इस सीरीज की फिल्म जरूर करूंगी।

आप अपने अब तक के करियर को कैसे देखती हैं?

मुझे अब तक बिना किसी परेशानी के फिल्में मिलती गईं। मेरा मानना है जिनके साथ भी मैं फिल्म करती हूं, मैं उन्हें ही अपना गॉडफादर मानती हूं। नीरज पांडे के साथ ‘एमएस धोनी-द अनटोल्ड स्टोरी’ की, अब्बास-मुस्तान के साथ फिल्म ‘मशीन’ की, कबीर सदानंद के साथ ‘फगली’ की, करण जौहर के साथ अभी ‘लस्ट स्टोरीज’ की।

साउथ के मेकर्स के साथ भी काम कर रही हूं। इन सभी से मैंने बहुत कुछ सीखा है और बतौर एक्ट्रेस खुद को ग्रो किया है। इस तरह देखा जाए तो अब तक का करियर अच्छा ही रहा है। आगे भी इसी तरह बढ़ना चाहती हूं।

कियारा आडवाणी का असली नाम आलिया था। लेकिन उन्होंने अपना नाम बॉलीवुड में आने से पहले बदल लिया। इसकी वजह कियारा बताती हैं, ‘मेरा असली नाम आलिया आडवाणी है।

नाम बदलने के पीछे यही वजह है कि आलिया भट्ट पहले से इंडस्ट्री में मौजूद थीं, वह हिट भी हैं। ऐसे में मैंने अपना नाम बदलना ही ठीक समझा। लेकिन मुझे अपना नाम आलिया ही पसंद है।’

Next Story
Top