Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

धर्मेंद्र को लेकर बेटी ईशा देओल ने किया खुलासा, फिल्मों में आने के खिलाफ थे पिता, बतायी ये बात

आज ईशा ने अपने आप को एक एक्टर और प्रोड्यूसर के रूप में दुनिया के सामने पेश किया है। लेकिन एक टाइम ऐसा भी था कि उनके पिता धर्मेंद्र उनके फिल्मों में काम करने के इस फैसले के खिलाफ थे। हमारे समाज के कुछ ऑर्थोडॉक्स पिताओं की तरह वह भी नहीं चाहते थे कि उनकी बेटी फिल्मों में काम करें....

धर्मेंद्र को लेकर बेटी ईशा देओल ने किया खुलासा, फिल्मों में आने के खिलाफ थे पिता, बतायी ये बात
X

बॉलीवुड एक्ट्रेस ईशा देओल (Esha Deol) इन दिनों खबरों में छायी हुई है। एक्टिंग में हाथ अजमाने के बाद अब ईशा प्रोड्यूसर बन गयी है। ईशा ने अपने पति भरत तख्तानी (Bharat Takhtani) के साथ मिलकर एक प्रोडक्शन हाउस लॉन्च किया है, जिसका नाम है भरत ईशा फिल्म्स (Bharat Esha Films)। बीईएफ (BEF) बैनर तले रिलीज हुई उनकी पहली फिल्म 'एक दुआ' (Ek Duaa) वूट सेलेक्ट ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हो गयी है। इस फिल्म को लेकर के ईशा देओल काफी खुश है, अपनी इस खुशी को शेयर करते हुए उन्होंने एक मीडिया से बातचीत की है।

इस खास बातचीत में ईशा ने कहा "मुझे इस फिल्म के लिए बतौर एक्ट्रेस अप्रोच किया गया था, लेकिन जब मैने स्क्रिप्ट सुनी तो मुझे कुछ अलग लगा। मै खुद एक मां और बेटी हूं इसलिए इसने मेरे दिल को छू लिया। मुझे पता था कि एक्टर के अलावा कई और तरह से इस फिल्म का पार्ट होना चाहती हुई थी। यह एक एक्स्ट्रा ऑर्डिनैरी फिल्म थी और अगर मुझे किसी दिन फिल्म बनानी होती तो मैं कुछ ऐसा करना चाहती थी। और इस तरह यह मेरा पहला प्रोजेक्ट बन गयी।" ईशा ने आगे कहा कि एक प्रोड्यूसर के रूप में बदलना एक अलग अनुभव था क्योंकि जब वह सेट पर होती थी तो वह अधिक जिम्मेदार महसूस करती थी।

आज ईशा ने अपने आप को एक एक्टर और प्रोड्यूसर के रूप में दुनिया के सामने पेश किया है। लेकिन एक टाइम ऐसा भी था कि उनके पिता धर्मेंद्र उनके फिल्मों में काम करने के इस फैसले के खिलाफ थे। हमारे समाज के कुछ ऑर्थोडॉक्स पिताओं की तरह वह भी नहीं चाहते थे कि उनकी बेटी फिल्मों में काम करें। इस बात का खुलासा ईशा ने 'द कपिल शर्मा शो' में किया था। जबकि उनके भाई सनी देओल और बॉबी देओल पहले से ही एक्टर थे। इस शो में ईशा अपनी मां हेमामालिनी (Hemamalini) के साथ आयी थी। इस बारें में बात करते हुए ईशा ने कहा, "मैं यह नहीं कहूंगी कि उन्होंने हमारे लिए इसे कठिन बनाया। हां, चैलेंज का एक अलग लेवेल होता है और लड़कों का भी अपना सेट होता है। जहां तक मेरे पिता का सवाल है, वह ओवर प्रोटेक्टिव और ऑर्थोडॉक्स हैं और उनके लिए लड़कियों को सुरक्षित तरीके से दुनिया से दूर रखना चाहिए। उन्होंने यही महसूस किया होगा, क्योंकि वह जानते थे कि हमारी इंडस्ट्री कैसे काम करती है। हमने इसे अच्छे से मैनेज किया।"

Next Story