Hari Bhoomi Logo
शुक्रवार, सितम्बर 22, 2017  
Breaking News
Top

भारत में युगल खिलाड़ियों से होता है सौतेला व्यवहार: ज्वाला गुट्टा

haribhoomi.com | UPDATED Jan 12 2017 8:57AM IST
नई दिल्ली. भारत की शीर्ष बैडमिंटन महिला युगल खिलाड़ी ज्वाला गुट्टा ने भारत में टेनिस को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। ज्वाला गुट्टा ने मंगलवार को कहा कि देश में युगल खिलाड़ियों को पर्याप्त समर्थन हासिल नहीं है और इसी कारण उनके प्रदर्शन में निरंतरता की कमी देखने को मिलती है।
 
ज्वाला गुट्टा ने कहा कि युगल खिलाड़ियों को प्रायोजक से लेकर न्यूट्रीशन तक की सुविधा एकल मुकाबले खेलने वाले खिलाड़ियों की अपेक्षा में बेहद कम स्तर पर प्राप्त है। फर्स्ट पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, युगल खिलाड़ियों के पिछले साल के खराब प्रदर्शन को लेकर पूछे सवाल पर ज्वाला ने कहा कि मैंने हमेशा कहा है कि हम हमेशा से युगल मुकाबलों में खिलाड़ियों के हारने पर उनकी आलोचना करते हैं लेकिन जब एकल मुकाबले में खिलाड़ी मैच हारते हैं तो कहा जाता है कि यह कड़ा मुकाबला था। यह मैंने महसूस किया है। 
 
साथ ही उन्होंने युगल खिलाडियों के सामने आने वाली परेशानी का ज़िक्र करते हुए कहा कि जो सहयोग एकल खिलाडियों को मिलता है वह युगल को नहीं मिल पाता है। हमेशा से ही युगल खिलाडियों की आलोचना की जाती है। जो सहयोग सरकार हमें देती है वह काफी नहीं है। बड़े लेवल पर प्रदर्शन करने के लिए बहुत सहयोग की ज़रुरत होती है। युगल खिलाडियों के साथ सौतेला व्यवहार किया जाता है।
 
इस अहम मैच से पहले ज्वाला ने कहा कि एकल खिलाड़ियों के प्रदर्शन में जो निरंतरता है और उन्हें जिस स्तर का समर्थन मिल रहा है, वह युगल खिलाड़ियों को मिलने वाले समर्थन से कई गुना ज्यादा है। अगर आप इसकी तुलना करना चाहते हैं तो यह 100 के सामने एक के बराबर है। हमें मुश्किल से समर्थन मिलता है। थोड़ा बहुत समर्थन और सहयोग हमें सरकार से जरूर मिलता है, लेकिन अगर हमें उच्च स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करना है तो यह काफी नहीं है।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
मुख्य खबरें
Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo