Logo
election banner
Vladimir Putin warning to western countries:रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गुरुवार को अमेरिका और दूसरे पश्चिमी देशों को परमाणु हमला करने की चेतावनी दी। पुतिन ने नाटो और अमेरिका पर रूस के खिलाफ जंग की तैयारी में जुटे होने का भी आरोप लगाया।

Vladimir Putin warning to western countries: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गुरुवार को अमेरिका और पश्चिमी देशों को परमाणु हमला करने की चेतावनी दी। पुतिन ने  कहा कि नाटो और अमेरिका, रूस पर हमला करने की तैयारी कर रहे हैं हैं। राष्ट्र के नाम अपने सालाना संबोधन में पुतिन ने दावा किया कि नाटो और अमेरिका हमारे देश पर हमला करने के लिए अपनी सबसे ज्यादा ताकतवर फोर्स का इस्तेमाल करने की योजना बना रहे हैं। अगर ऐसा होता है तो इसका उन्हें बेहद दुखद नतीजे भुगतने होंगे। पुतिन ने कहा कि रूस के पास अपना बचाव करने के लिए सभी जरूरी हथियार मौजूद हैं।

यूक्रेन से दूर रहे नाटो और पश्चिमी देश
अपने भाषण के दौरान, पुतिन ने बार-बार रूस के आधुनिक परमाणु शस्त्रागार की प्रशंसा की। पुतिन ने कहा कि रुस का परमाणु हथियार पूरी तरह से तैयारी है। उन्होंने कहा कि पश्चिम देश रूस की क्षमताओं को कम आंकने की गलती नहीं करे। अगर रूस परमाणु हथियारों का इस्तेमाल करता है तो इससे सभ्यताओं का विनाश होगा। रूसी राष्ट्रपति ने नाटो देशों पर परमाणु युद्ध का खतरा पैदा करने का आरोप लगाया। पुतिन ने कहा कि अगर नाटो और पश्चिमी देश यूक्रेन में सेना तैनात करते हैं तो इससे परमाणु  हमले का खतरा पैदा होगा। 

रूस को हथियारों की दौड़ में घसीटने की कोशिश
पुतिन ने कहा कि पश्चिमी देश रुस को हथियारों की दौड़ में घसीटने की कोशिश कर रहे हैं। उनका मुकाबला करने के लिए रूस के रक्षा-औद्योगिक परिसर को मजबूत किया जा रहा है। रूसी राष्ट्रपति ने कहा कि पश्चिमी देशों के खतरे से निपटने के लिए रूस अपनी सैन्य शक्तियों को मजबूत कर रहा है। इसके साथ ही देश को आर्थिक तौर पर मजबूती देने की काेशिशें जारी है। पुतिन ने कहा कि पश्चिमी ताकत ठीक वही रणनीतियां अपना रही है जो उन्होंने 1980 के दशक में सोविय संघ के खिलाफ इस्तेमाल की थी। 

अरब और लैटिन अमेरिकी देशों के साथ रिश्ते सुधारेगा रूस
रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अरब और लैटिन अमेरिकी देशों के साथ संबंधों को मजबूत करने के महत्व पर जोर दिया। पुतिन ने विश्वास व्यक्त किया कि इन क्षेत्रों के साथ गठबंधन बनाना रूस के हितों के लिए अहम है। रूस ने चीन की ढांचागत सुविधाओं को विकसित करने के लिए शुरू की गई, 'वन बेल्ट, वन रोड' पहल की भी सराहना की। 

यूक्रेन से जंग लड़ रहे रूसी सैनिकों की तारीफ की
पुतिन ने राष्ट्र के नाम अपने संबोधन के दौरान यूक्रेन के खिलाफ जंग लड़ रहे है रूसी सैनिकों की तारीफ की। पुतिन ने कहा कि रूस के यह सभी सैनिक अपने मकसद को लेकर प्रतिबद्ध हैं। यह सभी साहसी योद्धा हैं। इनमें हमारे देश के युवा भी शामिल हैं, जो अपने मिशन से पीछे नहीं हटेंगे। हमारे सैनिक ना तो असफल होंगे और ना ही विश्वासघात  करेंगे। पुतिन ने  मौन रखकर लड़ाई में अपनी जान गंवाने वाले रूस के शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि दी। 

राष्ट्रपति चुनाव से पहले समर्थन जुटाने की कोशिश
बता दें कि रूस में 15 से 17 मार्च राष्ट्रपति का चुनाव होने वाला है। पुतिन एक इंडिपेंडेंट कैंडिडेट के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं। ऐसे में अपने इस संबोधन के दौरान रुसी राष्ट्रपति ने राष्ट्रीय एकता को मजबूत करने की कोशिश की। पुतिन ने यूक्रेन के साथ चल रहे जंग के बीच समर्थन जुटाने और देश के लोगाें को एकजुट रखने की काेशिश की। पुतिन बीते 24 सालों से रूस की सत्ता में बने हुए हैं। कई बार पुतिन पर अपने विरोधियों को जेल में बंद करवाने और उनकी हत्या करवाने का भी आरोप लग चुका है।

jindal steel Ad
5379487