Logo
election banner
Russia Presidential Election: केरल में रहने वाले रूसी नागरिकों ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए तिरुवनंतपुरम में रूसी संघ के वाणिज्य दूतावास में अपना वोट डाला। दूतावास के निदेशक रथीश नायर ने केरल में मतदान प्रक्रिया में सहयोग के लिए रूसी नागरिकों का आभार व्यक्त किया।

Russia Presidential Election: यूक्रेन के साथ चल रहे जंग के बीच रूस में राष्ट्रपति चुनाव के लिए शुक्रवार, 15 मार्च को वोट डाले जा रहे हैं। वोटिंग देश के 11 क्षेत्रों में 17 मार्च तक होगी। इसके बाद नतीजे आएंगे। फिलहाल, ये चुनाव महज औपचारिकता भर है। क्योंकि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की जीतना तय है। उनके सामने कोई दमदार विपक्षी नेता नहीं है।

रूस में राष्ट्रपति चुनाव की प्रक्रिया अलग तरह की है। यहां पॉपुलर वोट के जरिए राष्ट्रपति का चुनाव होता है। जिस उम्मीदवार को 50 फीसदी से ज्यादा वोट हासिल होते हैं, वहीं राष्ट्रपति चुना जाता है। यदि उम्मीदवार दो से अधिक हैं और किसी एक को 50 फीसदी से ज्यादा वोट नहीं मिलते हैं तो ऐसी दशा में तीन हफ्तों बाद दोबारा चुनाव होता है। 

Vladimir Putin
Vladimir Putin

क्या पुतिन का जीतना तय?
पुतिन अब तक चार बार राष्ट्रपति रह चुके हैं। करीब हर चुनाव में उनका वोट प्रतिशत बढ़ता जा रहा है। 2000 में पुतिन को 54 फीसदी वोट मिले थे। तब वे पहली बार राष्ट्रपति चुने गए थे। इसके बाद 2004 में 72 फीसदी, 2012 में 65 फीसदी और 2018 के चुनाव में 77 फीसदी वोट हासिल किए थे। 

पुतिन की जीत का एक और कारण है। रूस के केंद्रीय चुनाव आयोग (CEC) ने व्लादिमीर पुतिन का विरोध करने के लिए केवल तीन उम्मीदवारों को मंजूरी दी है। 

पुतिन के खिलाफ ये तीन उम्मीदवार
पुतिन के खिलाफ खड़े तीन उम्मीदवार लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी के लियोनिद स्लटस्की, न्यू पीपल पार्टी के व्लादिस्लाव दावानकोव और कम्युनिस्ट पार्टी के निकोले खारितोनोव हैं। माना जाता है कि तीनों व्यक्ति क्रेमलिन समर्थक हैं और कोई भी यूक्रेन के खिलाफ रूस की सैन्य कार्रवाई के खिलाफ नहीं है।

क्या 2036 तक राष्ट्रपति बने रहेंगे पुतिन?
चूंकि अधिकांश दमदार विपक्षी उम्मीदवार या तो मर चुके हैं या जेल में हैं। या निर्वासित हैं। इसलिए पुतिन की जीत लगभग तय है। पुतिन के दोबारा चुने जाने से उनका शासन 2030 तक बढ़ जाएगा। 2020 में हुए संवैधानिक बदलावों के बाद वह फिर से चुनाव लड़ सकेंगे और संभावित रूप से 2036 तक सत्ता में बने रहेंगे।

Russia Presidential Election
Russia Presidential Election

केरल में पुतिन के लिए वोटिंग 
केरल में रहने वाले रूसी नागरिकों ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए तिरुवनंतपुरम में रूसी संघ के वाणिज्य दूतावास में अपना वोट डाला। दूतावास के निदेशक रथीश नायर ने केरल में मतदान प्रक्रिया में सहयोग के लिए रूसी नागरिकों का आभार व्यक्त किया।

रथीश नायर ने कहा कि यह तीसरी बार है जब रूसी संघ का वाणिज्य दूतावास रूसी राष्ट्रपति चुनावों के लिए मतदान की मेजबानी कर रहा है। 

5379487