Logo
Hardik Pandya on World Cup 2023 Injury: हार्दिक पंड्या ने विश्व कप के दौरान टखने में लगी चोट को लेकर बताया कि मैंने फिट होने की कोशिश में जल्दबाजी की और इससे मेरी चोट और बढ़ गई थी।

नई दिल्ली। भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या ने ये खुलासा किया है कि उन्हें जब वनडे विश्व कप के दौरान टखने में चोट लगी थी, तब उन्होंने टीम मैनेजमेंट से कहा था कि वो पांच दिन में लौट आएंगे। लेकिन, ऐसा नहीं हुआ और सिर्फ विश्व कप से ही नहीं, बल्कि तीन महीने तक मैदान से बाहर रहे। तब पंड्या को 25 दिन आराम के लिए कहा गया था। लेकिन, उन्होंने 5 दिन में ही वापसी की कोशिश की थी। इससे उनकी चोट और बढ़ गई थी। अब पूरी तरह फिट होकर हार्दिक पंड्या आईपीएल 2024 में वापसी करने जा रहे। वो मुंबई इंडियंस की कप्तानी करेंगे। 

हार्दिक पंड्या ने स्टार स्पोर्ट्स के साथ बातचीत में विश्व कप की चोट के बारे में बताया और उन्होंने ये भी खुलासा किया कि जल्दी वापसी के लिए उन्होंने क्या-क्या जतन किए थे। हार्दिक पंड्या ने कहा, "मैं एक साल से अधिक समय से विश्व कप की तैयारी कर रहा था। मैच के दौरान यह एक अजीब चोट थी। कहा गया था कि चोट 25 दिनों के लिए है और इसका मतलब है कि मैं विश्व कप के बाकी मैच नहीं खेल पाऊंगा, लेकिन मैंने कोशिश की। मैंने टीम मैनेजमेंट से कहा कि मैं 5 दिन बाद लौटूंगा। मैंने अपने टखने पर तीन जगह इंजेक्शन लगवाए। सूजन के कारण मुझे अपने टखने से खून निकालना पड़ा था। मैं सबकुछ देना चाहता था।"

यह भी पढ़ें: R Ashwin: वो चुनौती देते हैं और एक कोच के तौर पर...' राहुल द्रविड़ ने अश्विन की सबसे बड़ी खूबी बताई

मैं चल नहीं सकता था और दौड़ने की कोशिश कर रहा था: पंड्या
पंड्या ने आगे कहा, "एक समय मुझे पता था कि अगर मैं जोर लगाता रहा, तो मैं लंबे समय तक चोटिल रह सकता हूं, लेकिन मेरे लिए यह कभी भी जवाब नहीं था। अगर एक फीसदी भी मौका हो, तो मैं टीम के साथ रहना चाहता था। जब मैं इसके लिए कोशिश कर रहा था, तो मुझे दोबारा चोट लग गई और मुझे तीन महीने तक के लिए बाहर होना पड़ गया। जब मैं चल भी नहीं पा रहा था, तो दौड़ने की कोशिश कर रहा था और इस चक्कर में मेरी चोट बढ़ गई। लेकिन, मैं विश्व कप में वापसी नहीं कर पाया।"

यह भी पढ़ें: IPL 2024 Schedule: आईपीएल 2024 का बाकी बचा शेड्यूल कब आएगा? क्या भारत में ही होंगे मैच, आया बड़ा अपडेट

'जल्दी फिट होने के चक्कर में चोट बढ़ गई थी'
हार्दिक ने हमेशा टीम इंडिया के लिए विश्व कप जीतने का सपना देखा था। लेकिन, वो टखने की चोट के बाद वापसी नहीं कर पाए। उनके लिए ये हमेशा अफसोस बना रहेगा। उन्होंने कहा कि मैंने 10 दिनों तक पूरा जोर लगाने की कोशिश की। पेन किलर्स लिए और वापसी के दूसरे रास्ते भी ढूंढें। मेरे लिए देश के लिए खेलना सबसे बड़ा गर्व है। मैं टीम के साथ रहना चाहता था, भले ही हम जीतें या हारें, मैं बस उनके साथ रहना चाहता था। हालांकि, मैं चूक गया और मेरे दिल में ये हमेशा एक बोझ रहेगा।

CH Govt jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487