Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जूनियर हॉकी विश्व कप: 15 साल बाद भारत बना ''विश्व विजेता''

इस मैच में भारत की टीम ने बेल्जियम के खिलाफ आक्रामक शुरुआत की।

जूनियर हॉकी विश्व कप: 15 साल बाद भारत बना
लखनऊ. यूपी के ध्यानचंद स्टेडियम में खेले गए जूनियर हॉकी विश्व कप का किताब भारत ने अपने नाम कर लिया है। इस मुकाबले में भारत ने बेल्जियम को 2-1 से हराकर 15 साल बाद दोबारा विश्व विजेता का खिताब हासिल किया। कड़कड़ाती ठंड में मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में लगभग 10,000 दर्शकों से खचा-खच भरा हुआ था। मैच के शुरुआत से ही भारत ने बेल्जियम पर दबाव बनाए रखा। अंतिम समय तक भारत के दो गोल के जवाब में बेल्जियम मात्र एक गोल ही दाग पाया। भारत की ओर से पहला गोल 8 मिनट में गुरजंत सिंह ने जबकि दूसरा गोल स्ट्राइकर सिमरनजीत सिंह ने 22 मिनट में दागा।
जीत के अश्वमेधी रथ पर सवार भारतीय टीम पंद्रह बरस बाद जूनियर हॉकी विश्व कप का खिताब अपने नाम किया। इससे पहले 2001 में ऑस्ट्रेलिया के होबर्ट में भारतीय टीम ने अर्जेंटीना को 6-1 से हराकर एकमात्र जूनियर विश्व कप जीता था। भारत और बेल्जियम के बीच जूनियर विश्व कप हॉकी का फाइनल देखने के लिए कई अतिविशिष्ट अतिथि भी दर्शक दीर्घा में मौजूद थे जिनमें मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और राज्यपाल राम नाईक शामिल थे।
टीम को फेयरप्ले पुरस्कार
भारतीय टीम के ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत सिंह को यहां भारत और बेल्जियम के बीच जूनियर हॉकी विश्व कप के फाइनल से पहले फैंस च्वाइस प्लेयर पुरस्कार से नवाजा गया जबकि न्यूजीलैंड टीम को फेयरप्ले पुरस्कार मिला। विश्व कप में भाग लेने वाली 16 टीमों में से न्यूजीलैंड को खेलभावना के उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये यह पुरस्कार मिला। दूसरी ओर हरमनप्रीत ने लीग चरण में बेहतरीन प्रदर्शन करके भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top