Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

IND vs SA: मैच से पहले अफ्रीकी कप्तान का भारत पर जोरदार हमला, कहा- इस वजह से दोनों टेस्ट हारा

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डुप्लेसिस ने टीम इंडिया की पहले दोनों टेस्ट में शर्मनाक हार की वजह को बताया है।

IND vs SA: मैच से पहले अफ्रीकी कप्तान का भारत पर जोरदार हमला, कहा- इस वजह से दोनों टेस्ट हारा

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डुप्लेसिस ने मंगलवार को कहा कि उनकी टीम मौजूदा टेस्ट श्रृंखला में भारत के मजबूत बल्लेबाजी क्रम से बेहतर प्रदर्शन करने में सफल रही जो पहले दो टेस्ट में दोनों टीमों के बीच का अंतर साबित हुआ। श्रृंखला के तीन में से दो सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर भारतीय बल्लेबाजों के नाम दर्ज हैं लेकिन इसके बावजूद दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज मेहमान टीम के बल्लेबाजों से बेहतर प्रदर्शन करने में सफल रहे।

भारत की ओर से कप्तान विराट कोहली ने सेंचुरियन में 153 जबकि हार्दिक पंड्या ने केपटाउन में 93 रन की पारी खेली लेकिन दोनों ही मौकों पर इन्हें अन्य बल्लेबाजों से पर्याप्त समर्थन नहीं मिला। इसके विपरीत दक्षिण अफ्रीका की टीम ठोस साझेदारियां करने में सफल रही। फाफ डुप्लेसिस और एबी डिविलियर्स ने केपटाउन में पहली पारी में चौथे विकेट के लिए 114 जबकि डिविलियर्स और डीन एल्गर ने सेंचुरियन में दूसरी पारी में तीसरे विकेट के लिए 141 अंत जोड़े जिसने अंत में अंतर पैदा किया।

इसे भी पढ़े: IND vs SA: स्मिथ ने उठाया कोहली की क्षमता पर सवाल, कहा- ये है विराट की हार की बड़ी वजह

डुप्लेसिस ने तीसरे और अंतिम टेस्ट की पूर्व संध्या पर कहा- भारत और हमारे बीच अंतर यह रहा कि हमारे अधिक बल्लेबाजों ने साझेदारी में योगदान दिया। उन्होंने कहा-इस तरह के हालात में यह एक बार फिर महत्वपूर्ण होगा। बल्लेबाज के रूप में जब आप क्रीज पर उतरते हो तो आप अच्छी साझेदारी बनाने का प्रयास करते हो। भारतीय गेंदबाजों दोनों ही टेस्ट में 20 विकेट चटकाने में सफल रहे लेकिन बल्लेबाजों की विफलता ने टीम को निराश किया।

दक्षिण अफ्रीका ने केपटाउन में पहला टेस्ट 72 रन जबकि सेंचुरियन में दूसरा टेस्ट 135 रन से जीता। श्रृंखला जीतने के बावजूद दक्षिण अफ्रीका के कप्तान को उम्मीद है कि भारत अंतिम टेस्ट में पलटवार करेगा। उन्होंने कहा- मुझे लगता है कि भारत एक बार फिर कुछ साबित करने उतरेगा। वे अपने ऊपर गर्व करने वाली टीम है और 0-3 से हारना नहीं चाहेंगे इसलिए हमें उनसे एक बार फिर अच्छी चुनौती की उम्मीद है।

Share it
Top