Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारत में कोरोना से जल्द राहत नहीं, लंबे समय तक रहने की उम्मीद: डब्ल्यूएचओ

डब्ल्यूएचओ की मुख्‍य वैज्ञानिक डॉ सौम्‍या स्‍वामीनाथन (Dr Soumya Swaminathan) ने कहा है भारत में कोरोना वायरस एक तरह से महामारी के स्‍थानिकता  के चरण में प्रवेश कर रहा है, जहां पर कोरोना का निम्‍न और मध्‍यम स्‍तर (low and medium level) का संक्रमण जारी है।

भारत में कोरोना से जल्द राहत नहीं, लंबे समय तक रहने की उम्मीद: डब्ल्यूएचओ
X

भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) की रफ्तार भले ही धीमी हो गई हो, लेकिन देश में कोविड-19 की तीसरी लहर (coronavirus third wave) की आशंका जताई जा रही है। इसी बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO- डब्ल्यूएचओ) ने भारत के लिए कोरोना वायरस को लेकर एक चिंताजनक जानकारी दी है। डब्ल्यूएचओ की मुख्‍य वैज्ञानिक डॉ सौम्‍या स्‍वामीनाथन (Dr Soumya Swaminathan) ने कहा है भारत में कोरोना वायरस एक तरह से महामारी के स्‍थानिकता के चरण में प्रवेश कर रहा है, जहां पर कोरोना का निम्‍न और मध्‍यम स्‍तर (low and medium level) का संक्रमण जारी है। उन्होंने यह भी कहा कि स्थानिक अवस्था तब होती है जब कोई आबादी किसी भी वायरस (Virus) के साथ ही रहना सीख जाती है।

इसके अलावा स्‍वामीनाथन (Swaminathan) का कहना है कि भारत के आकार और अलग-अलग क्षेत्रों में जनसंख्‍या की विविधता और लोगों में कोरोना वायरस (Corona Virus) से लड़ने के लिए विकसित प्रतिरोधक क्षमता को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि देश में काफी लंबे समय तक कोरोना का संक्रमण (Infection) जारी रहेगा।

आने वाले कुछ सालों तक कोरोना में इसी तरह के उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं। कोरोना वायरस की मौजूदा स्थिति को देखते हुए हम यकीन के साथ कह सकते हैं कि हम कोरोना वायरस संक्रमण (corona virus infection) के स्‍थानिकता (endemicity) के चरण में प्रवेश कर चुके हैं। इस समय भारत निम्‍न और मध्‍यम स्‍तर का संक्रमण जारी है। कोरोना संक्रमण की रफ्तार पिछले काफी समय से स्थिर है और उसने काफी समय से कोई बड़ा उछाल देखने को नहीं मिला है।

Next Story