Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Visakhapatnam Gas Leak :  यह हैं भारत के 5 सबसे बड़े गैस लीक हादसे, जिनमें गई हजारों की जान

Visakhapatnam Gas Leak : आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में आज गुरुवार को एक रासायनिक संयंत्र में गैस रिसाव हुआ। इस हादसे में अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है और वही 1000 लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है।

Fire Visakhapatnam Ship
X
Fire Visakhapatnam Ship

Visakhapatnam Gas Leak : आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में आज गुरुवार को एक रासायनिक संयंत्र में गैस रिसाव हुआ। इस हादसे में अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है और वही 1000 लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है। जहां उनका इलाज किया जा रहा है और आसपास के गांवों को खाली करा लिया गया है।

ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, विशाखापत्तनम में एलजी पॉलिमर रासायनिक संयंत्र में अमोरा गैस रिसाव से एक बच्चे सहित 11 लोगों की मौत हो गई है। सैकड़ों ग्रामीणों को सिरदर्द, उल्टी और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती किया गया। विशाखापत्तनम गैस रिसाव गुरुवार को सुबह करीब 3.30 बजे एलजी पॉलिमर केमिकल प्लांट में हुआ। आस-पास के गांवों से सामने आने वाले भयावह वीडियो और फोटो सड़कों पर बेहोश पड़े मिले। यह पहला हादसा नहीं है। इससे पहले भी कई गैस हादसे भारत में हो चुके हैं जानें इनके के बारे में....

1. भोपाल गैस त्रासदी, 1984 - मध्य प्रदेश के भोपाल में 2-3 दिसंबर 1984 को एक बड़ा हादसा हुआ था। उस रात मध्य प्रदेश के भोपाल में स्थित यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड कंपनी से मिथाइल आईसोसाइनेट गैस के साथ-साथ कुछ अन्य कैमिकल लीक हुए। इस हादसे में करीब 8000 लोग मारे गए थे, जबकि करीब 40 हजार लोग घायल हुए थे। अब तक उस हादसे से 8000 के करीब और लोग मारे जा चुके हैं। यह हादसा भारत का अब तक का सबसे बड़ा हादसा कहा जाता है।

2. ऊंचाहार एनटीपीसी प्लांट हादसा - उत्तर प्रदेश के ऊंचाहार में 1 नवंबर 2017 को एनटीपीसी के प्लांट में गैस लीक हुई। इस हादसे में 40 लोगों की मौत हो गई और 100 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। एक नवंबर की सुबह करीब साढ़े 3 बजे एनटीपीसी के प्लांट में बॉयलर में धमाका हो गया था।

3. चासनाला खान दुर्घटना - झारखंड के धनबाद में चास नाला में 27 दिसंबर 1975 को ही ऐसा दर्दनाक हादसा हुआ कोयले की खदान में एक बड़ा ब्लास्ट हुआ और फिर उसमें पानी भर गया। इस वजह से करीब 380 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई थी। फिल्म काला पत्थर इसी दुर्घटना पर बनी हुई है।

4. जयपुर ऑयल डिपो में आग - राजस्थान के जयपुर में साल 29 अक्टूबर 2009 को इंडियन ऑयल के एक डिपो में बड़ा हादसा हुआ।इस हादसे में 12 लोगों की मौत हुई थी और कम से कम 300 लोग घायल हुए थे। इस घटना में करीब 8000 किलोलीटर पेट्रोल वाला टैंक फट गया था।

5. कोरबा चिमनी हादसा - छत्तीसगढ़ के कोरबा में 23 सितंबर 2009 को हादसा हुआ। जब ये इंडस्ट्रियल डिजास्टर बन रही थी तभी ये चिमनी अचानक करीब 100 मजदूरों पर गिर गई। उसमें 45 लोगों की मौत हो गई। कई लोग घायल हो गए थे।

Next Story