Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

RBI के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल को मिली नई जिम्मेदारी, बनाए गए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक फाइनेंस एंड पॉलिसी के चेयरमैन

उर्जित पटेल ने आरबीआई के पद से दिसंबर 2018 में इस्तीफा दिया था। उनका कार्यकाल 2019 के सितंबर में पूरा होने वाला था।

RBI के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल को मिली नई जिम्मेदारी, बनाए गए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक फाइनेंस एंड पॉलिसी के चेयरमैन
X
RBI के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल को मिली नई जिम्मेदारी, बनाए गए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक फाइनेंस एंड पॉलिसी के चेयरमैन

RBI के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल को अब नई जिम्मेदारी मिल गई है। उन्हें नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक फाइनेंस एंड पॉलिसी (एनआईपीएफपी) के चेयरमैन का पद सौंपा गया है। वो 22 जून को अपना पद संभालेंगे।

क्या है एनआईपीएफपी

यह संस्था अर्थशास्त्र से संबंधित क्षेत्रों में नीति निर्माण कार्य के लिए प्रतिबद्ध है। इसे भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के अलावा विभिन्न राज्य सरकारों से भी सालाना अनुदान दिया जाता है।

कार्यकाल पूरा होने से पहले दिया था इस्तीफा

उर्जित पटेल ने आरबीआई के पद से दिसंबर 2018 में इस्तीफा दिया था। उन्होंने अपना कार्यकाल पूरा होने से पहले ही अपना इस्तीफा दे दिया था। बता दें कि उर्जित का कार्यकाल 2019 के सितंबर में पूरा होने वाला था और वो दूसरे कार्यकाल के लिए भी योग्य थे। उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद शक्तिकांत दास RBI के गवर्नर नियुक्त हुए थे।

नोटबंदी के फैसले से नहीं थे खुश

उर्जित पटेल के गवर्नर बनने के तीन महीने बाद नोटबंदी का फैसला लिया गया था। पटेल को नोटबंदी का फैसला पसंद नहीं था। उनका मानना था कि काले धन का लेन-देन सिर्फ कैश में नहीं होता, बल्कि सोना और रियल एस्टेट के जरिए भी होता है।

एनआईपीएफपी ने दिया बयान

एनआईपीएफपी ने बयान दिया कि हमें इस बात की खुशी है कि रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर उर्जित पटेल 22 जून, 2020 से चार साल के लिए संस्थान के चेयरपर्सन के रूप में हमसे जुड़ रहे हैं।

Next Story